डीएम के जनता दरबार में आयी 21 शिकायतें, अधिकांश समस्याओं का मौके पर हुआ निस्तारण

Ad
खबर शेयर करें

समाचार सच, हल्द्वानी। बुधवार को जनता दरबार में फरियादियों द्वारा प्रमुख समस्याओं में सडक, पानी, शिक्षा, बीमारी ईलाज, प्रमाण-पत्र, मुआवजा, फीस माफी, शौचालय, रोजगार आदि से सम्बन्धित 21 समस्यायेें एवं शिकायतें दर्ज हुई। अधिकांश समस्याओ का मौके पर निस्तारण करते हुये अवशेष समस्याओं को जिलाधिकारी धीराज सिह गर्ब्याल ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि जनसुनवाई मे पंजीकृत समस्याओं को समयावधि मेे निस्तारित करना सुनिश्चित करें, तथा कृत कार्यवाही से आवेदन कर्ता को भी अवगत करायें। उन्होंने कहा कि समस्याओ की निस्तारण की मानिटरिंग भी की जायेगी।

शकील अहमद अंसारी पार्षद एवं नजाकत हुसैन ने कहा कि मदरसा पब्लिक स्कूल इन्द्रा नगर के प्रबन्धक द्वारा अभिभावकों से अभद्रता की जाती है जिसकी शिकायत अभिभावक आये दिन मरे समक्ष लेकर आते हैं। प्रबन्धक से वार्ता किये जाने के बाद भी उनके रवैये में कोई बदलाव नही आया तथा अनावश्यक रूप से पैसे की मांग कर ही है जिस कारण क्षेत्र के अभिभावक बहुत परेशान है। बच्चो की अधूरी टीसी देकर अभिभावकों को परेशान किया जा रहा है जिस कारण अन्य स्कूलों मे एडमिशन नही हो पा रहा है जिससे बच्चों का भविष्य खराब हो रहा है। जिस पर जिलाधिकारी ने ब्लाक शिक्षा अधिकारी को स्वयं जांच कर समस्या का निस्तारण कर अवगत करायें। आवास विकास निवासी सुरेश चन्द्र कहा कि वे गरीब है तथा ईपीएफओ से मात्र एक हजार रूपये पंेशन मिलती है। उन्होने विभिन्न प्रकार के टैक्स एवं यूजर चार्जेज माफी का अनुरोध किया। जिस पर नगर आयुक्त को समस्या का निदान करने के निर्देश दिये। दमुवांढूगा निवासी नन्दी देवी, भावना देवी व द्रोपती देवी ने बीपीएल कार्ड बनाने का अनुरोध किया। जिस पर जिलाधिकारी ने जिला पूर्ति अधिकारी को जांच कर अवगत कराने के निर्देश दिये। ग्राम प्रधान गुजरौडा ऋतु जोशी ने ग्राम सभा गुजरौडा के तोक नवाड में सडक निमार्ण व दैवीय आपदा मे क्षतिग्रस्त सिचाई गूल एवं सुरक्षा तटबन्ध निर्माण कराने का अनुरोध किया। जिस पर जिलाधिकारी अधिशासी अभियन्ता लोनिवि एवं सिचाई को सर्वे कर प्रस्ताव बनाने के निर्देश दिये।

यह भी पढ़ें -   मुख्यमंत्री धामी ने दी शहीद जवान को श्रद्धांजलि

पूर्व सैनिक अम्बादत जोशी ने दाखिल खारिज मे शान्ती देवी व स्व0 सरस्वती देवी के स्थान पर शान्ती देवी का नाम दर्ज कराने का अनुरोध किया। जिस पर जिलाधिकारी ने तहसीलदार को शीघ्र निस्तारण कराने के निर्देश दिये। शमशेर सिह ने बताया कि उनकी भूमि पूर्व मे ग्रामीण मे आती थी अब वह नगर निगम मे आ गई है इसलिए उनकी वर्ग-4 भूमि विनीयमितीकरण नही हो पा रही है। जिस पर जिलाधिकारी ने शमशेर सिह से धनराशि जमा करने के साथ ही उपजिलाधिकारी को तुरन्त विनीयमितीकरण प्रस्ताव प्रस्तुत करने के निर्देश दिये। उन्होने नगर आयुक्त को हल्द्वानी मे हो रहे अतिक्रमण अभियान चलाकर हटाने के निर्देश साथ ही अमृत योजना के हुये कार्याे से क्षतिग्रस्त सडकों के मरम्मत कराने के निर्देश भी दिये। उन्होने अपर जिलाधिकारी को निर्देश दिये कि वे कोविड दौरान विभिन्न देयकों के बिल प्रस्तुत करें ताकि उनका भुगतान किया जा सके।

यह भी पढ़ें -   सड़क किनारे युवक का शव मिलने से मचा हड़कंप

इस दौरान अपर जिलाधिकारी अशोक जोशी, नगर आयुक्त पंकज उपाध्याय, सिटी मजिस्टेट ऋचा सिह, उपजिलाधिकारी मनीष कुमार, सैनिक कल्याण अधिकारी कै.सेनि आर एस धपोला आदि मौजूद थे।

Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *