महाराष्ट्र के चेंबूर और विक्रोली इलाके में दीवार गिरने से 21 की मौत

Ad
खबर शेयर करें

समाचार सच, मुंबई (एजेन्सी)। मुंबई में लगातार हो रही बारिश एक बार फिर यहां के लिए मुसीबत बन गई है। महाराष्ट्र के चेंबूर और विक्रोली इलाके में भूस्खलन के कारण दीवार गिरने से 21 लोगों की मौत हो गई है। राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (एनडीआरएफ) ने कहा कि बचाव अभियान जारी है। भारी बारिश के कारण लोकल ट्रेनों का संचालन रोक दिया गया है। मुंबई के चेंबूर और विक्रोली इलाकों में दीवार गिरने की दो अलग-अलग घटनाओं में 24 लोगों की मौत हो गई। चेंबूर में 17 और विक्रोली में सात लोगों की मौत हुई।

प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने शोक व्यक्त किया और मृतकों के परिजनों के लिए 2 लाख रुपये और घायलों के लिए 50,000 रुपये देने की घोषणा की। पीएमओ ने कहा, मुंबई में दीवार गिरने से जान गंवाने वालों के परिजनों को पीएमएनआरएफ की ओर से दो-दो लाख रुपए दिए जाएंगे। घायलों को 50,000 रुपए दिए जाएंगे। प्रधानमंत्री ने कहा, मुंबई के चेंबूर और विक्रोली में दीवार गिरने से लोगों की जान जाने से दुखी हूं। दुख की इस घड़ी में मेरी संवेदनाएं शोक संतप्त परिवारों के साथ हैं। प्रार्थना है कि जो लोग घायल हुए हैं वे शीघ्र स्वस्थ हों।ष् मुंबई के चेंबूर के वाशी नाका इलाके में 17 जुलाई और 18 जुलाई की दरमियानी रात करीब 1 बजे एक घर की दीवार गिरने से 17 लोगों की मौत हो गई। राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (एनडीआरएफ) ने कहा कि भूस्खलन के कारण दीवार ढह गई। रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है। घायलों को अस्पताल ले जाया गया है। मुंबई के विक्रोली उपनगर में रात 2.30 बजे लगातार बारिश के बाद भूस्खलन के बाद पांच झोंपड़ियों के ढह जाने से सात झोपड़ियों में रहने वालों की मौत हो गई। उन्होंने कहा कि दो लोग घायल हो गए और उन्हें नजदीकी अस्पताल भेजा गया। एनडीआरएफ के डिप्टी कमांडेंट आशीष कुमार ने कहा, मुंबई में लगातार बारिश के बाद विक्रोली इलाके में ढही इमारत के मलबे में तीन शव बरामद कर लिए गए हैं और पांच-छह लोगों के फंसे होने की आशंका है। रेलवे अधिकारियों ने बताया कि रात भर हुई भारी बारिश के कारण पटरियों में जलभराव के कारण वित्तीय राजधानी में मध्य रेलवे और पश्चिम रेलवे दोनों पर उपनगरीय ट्रेन सेवाएं निलंबित कर दी गई हैं। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने भारी बारिश की पृष्ठभूमि में मुंबई के लिए रेड अलर्ट जारी किया है।

Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *