26 अक्टूबर को मनाया जाएगा गोवर्धन पूजा या अन्नकूट, जानते हैं शुभ मुहूर्त

खबर शेयर करें

समाचार सच, स्वास्थ्य डेस्क। हर साल दिवाली के अगले दिन गोवर्धन पूजा मनाते हैं, लेकिन इस साल ऐसा नहीं है। इस साल दिवाली के अगले दिन यानि आज 25 अक्टूबर मंगलवार को सूर्य ग्रहण है, इसलिए गोवर्धन पूजा आज नहीं है, बल्कि कल 26 अक्टूबर दिन बुधवार को मनाया जाएगा। गोवर्धन पूजा को अन्नकूट के नाम से भी जानते हैं। गोवर्धन पूजा के दिन भगवान श्रीकृष्ण और गोवर्धन पर्वत की पूजा करते हैं. भगवान श्रीकृष्ण को अन्नकूट का भोग लगाते हैं. तिरुपति के ज्योतिषाचार्य डॉ. कृष्ण कुमार भार्गव से जानते हैं गोवर्धन पूजा के शुभ मुहूर्त और तिथि के बारे में।

गोवर्धन पूजा 2022 तिथि
पंचांग के अनुसार, हर साल कार्तिक माह के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि को गोवर्धन पूजा करते हैं। इस साल कार्तिक शुक्ल प्रतिपदा तिथि का प्रारंभ आज 25 अक्टूबर को शाम 04 बजकर 18 मिनट से होना है और यह कल 26 अक्टूबर को दोपहर 02 बजकर 42 मिनट तक है।

यह भी पढ़ें -   उत्तराखण्ड से किशोरी का अपहरण करने वाले आरोपी को हिमांचल प्रदेश से किया गिरफ्तार, यह है पूरा मामला…

गोवर्धन पूजा के लिए है 2 घंटे का शुभ मुहूर्त
26 अक्टूबर को गोवर्धन पूजा के लिए सुबह 02 घंटे 14 मिनट का ही शुभ मुहूर्त है। ऐसे में आपको इस समय काल में ही गोवर्धन पूजा संपन्न कर लेनी चाहिए। सुबह में गोवर्धन पूजा का शुभ मुहूर्त प्रातः 06 बजकर 29 मिनट से सुबह 08 बजकर 43 मिनट तक है।

प्रीति योग में गोवर्धन पूजा
गोवर्धन पूजा के दिन प्रीति योग बना हुआ है। इस दिन प्रातरूकाल से लेकर सुबह 10 बजकर 09 मिनट तक प्रीति योग है। यह पूजा पाठ और मांगलिक कार्यों के लिए शुभ फलदायी माना जाता है। इसके बाद से आयुष्मान् योग का प्रारंभ हो रहा है।

यह भी पढ़ें -   रात में सोते समय गला सूखने के पीछे क्या कारण होता है, इसके क्या लक्षण हैं और कैसे करें दूर

गोवर्धन पूजा का महत्व
पौराणिक कथाओं के अनुसार, द्वापर युग में भगवान श्रीकृष्ण ने इंद्र देव के घमंड को तोड़कर उनके प्रकोप से समस्त गोकुलवासियों की रक्षा की थी। हालांकि इसके बाद इंद्र को अपने किए पर पश्चात भी हुआ और उन्होंने भगवान श्रीकृष्ण से इसके लिए माफी भी मांगी।

तब से हर साल कार्तिक शुक्ल प्रतिपदा को गोवर्धन पूजा की जाती है। यह प्रकृति प्रेम और उसके संरक्षण का प्रतीक है। इस दिन भगवान श्रीकृष्ण को अन्नकूट का भोग लगाया जाता है, जिसमें अनेक प्रकार के व्यंजन भोजन के लिए परोसे जाते हैं।

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज़ लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें

हमसे संपर्क करने/विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें - +91 70170 85440