तहसील दिवस में दर्ज की गई 31 शिकायतें

Ad
Ad
खबर शेयर करें

समाचार सच, देहरादून। पौड़ी 21 सितम्बर। जन समस्याओं के निस्तारण को लेकर आज जिलाधिकारी गढ़वाल डॉ. विजय कुमार जोगदण्डे की अध्यक्षता में श्रीनगर तहसील सभागार में तहसील दिवस आयोजित किया गया, जिसमें लगभग 31 शिकायतें दर्ज की गई। अधिकांश शिकातयों का मौके पर निस्तारण किया गया जबकि कुछ शिकायतों पर जांच कमेटी गठित की गई है, जिन पर जांच के उपरान्त कार्यवाही की जायेगी। दर्ज शिकायतों में अधिकतर शिकायतें नगर पालिका एवं लोक निर्माण विभाग सहित पेयजल निगम, जल संस्थान, विद्युत, रेलवे निर्माण सहित अन्य विभागों की शिकायतें शामिल हैं, जिनका संज्ञान लेते हुए जिलाधिकारी ने 15 दिनों के भीतर शिकायतों/समस्याओं का निस्तारण करने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिये। इस दौरान खण्ड शिक्षा अधिकारी के अनुपस्थिति रहने पर स्पष्टीकरण तलब करने के निर्देश सम्बन्धित अधिकारी को दिए। जिलाधिकारी डॉ. जोगदण्डे ने दर्ज शिकायतों के सम्बन्ध में अधिकारियों से चर्चा करते हुए सभी विभागों को निर्देशित किया कि निर्माण कार्यों से संबंधित जिन प्रकरणों पर प्रस्ताव तैयार किये गये हैं, उन पर शीघ्रता से कार्यवाही करते हुए प्रस्ताव शासन को प्रेषित करना सुनिश्चित करें। जिलाधिकारी ने उपजिलाधिकारी श्रीनगर को निर्देशित किया कि जांच प्रकरण से संबंधित शिकातयों का व्यक्तिगत रूप से निरीक्षण करना सुनिश्चित करें। उन्होंने संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया कि लोगों की समस्याओं का निस्तारण तहसील स्तर पर ही करना सुनिश्चित करें, ताकि उन्हें परेशानियों का सामना करते हुए जनपद मुख्यालय न आना पड़ें। साथ ही उन्होंने विवादस्त मामलों की जांच आख्या भी उपलब्ध कराने के निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने कहा कि जनपद स्तरीय अधिकारी अपने-अपने अधीनस्थ कार्यलयों का समय-समय पर निरीक्षण करना सुनिश्चित करें, जिससे हो रहे कार्यों की जानकारी मिल सकेगी। जिलाधिकारी ने सम्बन्धित अधिकारी को निर्देशित किया कि जिन गांव में स्वच्छता कमेटी गठित नहीं हुई है वहाँ तत्काल कमेटी बनाना सुनिश्चित करें। श्रीकोेट में विद्युत आपूर्ति बाधित होने की शिकायत पर संबंधित अधिकारी को निर्देशित किया कि जिस ठेकेदार द्वारा सही कार्य नही किया जा रहा है, उसका स्पष्टीकरण करना सुनिश्चित करें। अधिशासी अधिकारी नगर पालिका श्रीनगर को निर्देशित किया कि घर-घर जाकर लोगों को जागरूक करते हुए कूड़ा उठवाना सुनिश्चित करें। उन्होंने एसडीएम को निर्देशित किया कि जो प्रकरण लंबित है उनकी जांच करना सुनिश्चित करें। उन्होंने सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देशित किया कि बेहतर गुणवत्ता के साथ कार्य करना सुनिश्चित करें।
जिलाधिकारी डॉ. जोगदण्डे ने कहा कि जिस भी विभाग के पास जो शिकायत आती है, उसको दर्ज कर यथासम्भव अपने स्तर पर ही निस्तारण करना सुनिश्चित करें और यदि आपके स्तर पर सम्भव न हो लिखित रूप में अपने उच्चाधिकारी के संज्ञान में लाते हुए शासन को प्रेषित करना सुनिश्चित करें। जिलाधिकारी ने अधिकारियों को निर्देशित किया कि जांच के प्रकरणों में शिकायतकर्ता को मौके पर बुलाकर उनके कथन को लिखित में लेकर उनकी उपस्थित में जांच करायें, ताकि उनके मन में दुविधा न रहे। उन्होंने कहा कि तहसील दिवस के अवसर पर सभी विभागों के अधिकारी मौजूद होते है और एक ही जगह पर समन्वय बनाकर सभी समस्याओं का हल निकालकर समस्याओं का निस्तारण किया जाता है। इसलिए सबको तहसील दिवसों में अधिक से अधिक संख्या में पहुंचकर इनका लाभ लेना चाहिए। पेयजल व विद्युत की शिकायत मिलने पर जिलाधिकारी ने सम्बन्धित अधिकारी को तत्काल निरीक्षण कर समस्या का निस्तारण करने के निर्देश दिए। मुख्य विकास अधिकारी प्रशांत कुमार आर्य ने कहा कि आम जनमानस की समस्या हेतु तहसील दिवस का आयोजन किया जाता है। उन्होंने सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देशित किया कि समस्या मिलते ही निस्तारण करने की कोशिस करें, जिसमे आमजन को दिक्कतों का सामना न करना पड़े। साथ ही कहा कि जिन प्रकरणों में दिक्कतें आ रही हैं उनकी रिपोर्ट उपलब्ध कराएं, जिससे उनका समाधान भी जल्द से जल्द किया जा सके। इस अवसर पर प्रभागीय वनाधिकारी मुकेश कुमार शर्मा, जिला विकास अधिकारी वेद प्रकाश, एसडीएम अजयवीर सिंह, महाप्रबंधक उद्योग मृत्युंजय सिंह, मुख्य कृषि अधिकारी डीएस राणा, मत्स्य अधिकारी अभिषेक मिश्रा, सिंचाई अधिकारी राजीव रंजन, जिला पूर्ति अधिकारी कोहली, बाल विकास अधिकारी जितेंद्र कुमार, एडीपीआरओ नितिन नौटियाल, सहायक समाज कल्याण अधिकारी अनिल सेमवाल सहित अन्य उपस्थित थे।

Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *