जम्मू कश्मीर में आतंकी हमले में उत्तराखंड के 5 जवान शहीद, दून पहुंचे पांचों जवानों का पार्थिव शरीर, सीएम ने दी श्रद्धांजलि

खबर शेयर करें

समाचार सच, देहरादून/डोईवाला। उत्तराखंड के 5 जवानों ने जम्मू कश्मीर के कठुआ में हुए आतंकी हमले में देश के लिए अपने प्राणों की आहुति दे दी है। 5 शहीद जवानों में 2 पौड़ी, 2 टिहरी और एक रुद्रप्रयाग के हैं। जवानों की शहादत से उत्तराखंड में शोक का माहौल है। 5 soldiers of Uttarakhand martyred in terrorist attack in Jammu and Kashmir

उत्तराखंड के उक्त पांचों जवानों का पार्थिव शरीर जौलीग्रांट एयरपोर्ट पहुंच गया है। जहां मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी समेत तमाम दिग्गजों ने शहीद जवानों को श्रद्धांजलि अर्पित की। अब एयरपोर्ट से शहीदों के पार्थिव शरीर को पैतृक निवास स्थान भेज दिया गया है।

यह भी पढ़ें -   १८ जुलाई २०२४ बृहस्पतिवार का पंचांग, जानिए राशिफल में आज का दिन कैसा रहेगा आपका…

बता दें कि बीती रोज यानी 8 जुलाई को जम्मू कश्मीर के कठुआ में आतंकियों ने घात लगाकर सेना पर ताबड़तोड़ हमला कर दिया था। सेना ने भी काउंटर अटैक कर जवाबी फायरिंग की, लेकिन आतंकी जंगल की तरफ भाग गए। आतंकी हमले में कीर्तिनगर ब्लॉक के थाती डागर निवासी राइफलमैन आदर्श नेगी, रुद्रप्रयाग निवासी नायब सूबेदार आनंद सिंह, लैंसडौन निवासी हवलदार कमल सिंह, टिहरी गढ़वाल निवासी नायक विनोद सिंह, रिखणीखाल निवासी राइफलमैन अनुज नेगी बलिदान दिया।

इधर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने यहां शाम को पहुंचे पांचों शहीद जवानों के पार्थिव शरीर पर पुष्प चक्र अर्पित कर श्रद्धांजलि अर्पित की। इस दौरान वे वीर जवानों के बलिदान को याद कर भावुक नजर आए। उन्होंने कहा कि यह सभी प्रदेशवासियों के लिए अत्यंत पीड़ा का क्षण है। क्योंकि, हमने भाई और बेटा खोया है। सीएम धामी ने कहा कि मां भारती की रक्षा करते हुए आतंकियों के खिलाफ वीर जवानों का यह सर्वाेच्च बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा। इस कायरतापूर्ण हमले के दोषी और मानवता के दुश्मन आतंकियों को किसी भी कीमत पर बख्शे नहीं जाएंगे। साथ ही इनको पनाह देने वाले लोगों को भी इसका परिणाम भुगतना होगा। उन्होंने कहा कि सैन्य भूमि उत्तराखंड वीर सैनिकों को जन्म देने वाली भूमि है। यहां के जवानों ने सदैव मां भारती की सेवा में अपने प्राणों की आहुति देकर अपने राष्ट्र धर्म का निर्वहन किया है। पांचों वीर जवान हमारे परिवार के सदस्य हैं। इस दुख की घड़ी में संपूर्ण देश और प्रदेश शहीदों के परिजनों के साथ खड़ा है।

Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज़ लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें

हमसे संपर्क करने/विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें - +91 70170 85440