दुर्लभ प्रजाति के जीव पैंगोलिन की तस्करी करते 6 लोगों को पकड़े, कार्रवाई कर भेजा जेल

खबर शेयर करें

समाचार सच, हल्द्वानी। पुलिस व वन विभाग की टीम ने एक बड़ी सफलता पाई है। दुर्लभ प्रजाति के पैंगोलिन की तस्करी कर रहे 6 तस्करों को गिरफ्तार किया गया है। बरामद जीवित पैंगोलिन की कीमत लाखों रूपये बताई जा रही है। पुलिस ने तस्करों को वन्य जीव अधिनियम में कार्यवाही कर जेल भेज दिया है। जबकि कार को सीज किया गया है

जानकारी के अनुसार वन विभाग की टीम को मुखबिर ने सूचना दी कि शक्तिफार्म से सटे गोरापड़ाव क्षेत्र के जंगल में वन्य जीव तस्कर सक्रिय हैं। यह तस्कर दुर्लभ प्रजाति के जीवों की तस्करी करने की फिराक में हैं। इस सूचना पर वन विभाग ने पुलिस से सहयोग मांगा और संयुक्त कार्यवाही शुरू कर दी गई। इस कार्यवाही को अंजाम देने के लिए वन विभाग व पुलिस ने योजना तैयार की। जिसके तहत पुलिस ने ग्राहक बनकर तस्करों से दुर्लभ जीवों का सौदा किया। साथ ही मुखबिर तंत्र को अलर्ट कर दिया गया। तय कार्य योजना के तहत मुखबिर ने संयुक्त टीम को तस्करों के आने की सूचना दे दी। इस पर टीम ने गोरापड़ाव में नहर पार कर शिव मंदिर के पास कार संख्या यूके 07एटी-8703 को चौकिंग के लिए रोक लिया। कार की तलाशी लेने पर पिछली सीट में रखा कट्टा खोला गया तो उसमें से पैंगोलिन बरामद हो गया। इस पर पुलिस व वन विभाग की टीम ने कार सवार 6 तस्करों को हिरासत में ले लिया। पकड़े गये तस्करों ने अपने नाम अजय सिंह पुत्र पूरन सिंह निवासी ढोरा डाम, नजीबाबाद ऊधमसिंह नगर, दर्शन सिंह पुत्र धर्म सिंह निवासी नजीबाबाद किच्छा, अनिल कुमार पुत्र अमर सिंह, राहुल कुमार पुत्र सुखबीर सिंह निवासी तरफ दलपतपुर, मुरादाबाद, राय पुत्र गोर राय निवासी गोर राय, शक्तिफार्म बैकुंठपुर व हरजीत सिंह पुत्र हरनाम सिंह निवासी तुमड़िया डाम मालधन चौड़ रामनगर बताए हैं। बरामद जीवित पैंगुलिन की कीमत अंतर्राष्ट्रीय बाजार में करीब 80 लाख बताई जा रही है। तस्करों ने बताया कि वह संरक्षित प्रजाति के इस पैंगोलिन को शक्तिफार्म के जंगल से लेकर आ रहे हैं और उसे बेचने की फिराक में थे। पुलिस ने पकड़े गये अभियुक्तों के खिलाफ वन्य जीव अधिनियम 1972 के अंतर्गत अभियोग पंजीकृत कर जेल भेज दिया गया है। जबकि तस्करी में प्रयुक्त कार को सीज कर दिया गया है। सफलता प्राप्त करने वाली टीम में पुलिस की ओर से कोतवाल मनोज रतूड़ी, मंडी चौकी प्रभारी दिनेश जोशी, कांस्टेबल कुंदन सिंह, त्रिलोक सिंह, इसरार अहमद, इसरार नबी, उमेश पंत, वीरेंद्र चौहान व वन विभाग की ओर से वन क्षेत्राधिकारी रूपनारायण गौतम, उमेश चंद्र आर्य, दरोगा कैलाश चंद तिवारी, आनंद बल्लभ पंत, दिनेश शाही, आरक्षी मोहम्मद ताहिर शामिल रहे।

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज़ लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें

हमसे संपर्क करने/विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें - +91 70170 85440

Leave a Reply

Your email address will not be published.