हल्द्वानी में आक्रोशित कांग्रेसियों ने फूंका सीएम का पुतला

Ad
Ad
खबर शेयर करें

समाचार सच, हल्द्वानी। कांग्रेसियों ने भाजपा सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि कांग्रेस की विजय शंखनाद रैली की अनुमति रद्द करना उनके डर को दर्शाता है। इस मौके पर महानगर कांग्रेस कमेटी के बैनर तले कांग्रेसियों ने मुख्यमंत्री पुतला दहन कर अपना आक्रोश व्यक्त किया।

प्रदर्शन के दौरान कांग्रेसियों का कहना था कि जिस षड्यंत्र के तहत भाजपा व सरकार के मुख्यमंत्री द्वारा कांग्रेस पार्टी के 10 नवंबर के प्रस्तावित कार्यक्रम के ऊपर सरकारी कार्यक्रम आयोजित कर कांग्रेस पार्टी के एक विशाल कार्यक्रम को रोकने का कार्य किया है, इससे लगता है कि भाजपा सरकार घबरा गई है और उनको यकीन होने लगा है की शंखनाद रैली में हजारों की संख्या में आम जनता पहुंचने वाली है। उनका आरोप था कि सरकार ने अपनी सत्ता की ताकत दिखाते हुए विपक्ष को जनता की आवाज उठाने से रोकने का काम किया है, जो सरासर गलत है और आम जनता की आवाज दबाने का प्रयास कर सरकार तानाशाही रवैया अपना रही है, जिसे कतई बर्दाश्त नहीं किया जायेगा।

यह भी पढ़ें -   राज्य आंदोलनकारियों की पेंशन 15000 रूपए प्रति माह की जाए : धीरेंद्र प्रताप

पुतला फूंकने वालों में महानगर अध्यक्ष राहुल छिमवाल, पूर्व कबीना मंत्री हरीश दुर्गापाल, पब्लिकसिटी कमेटी के प्रदेश अध्यक्ष सुमित हृदयेश, अनुशासन समिति के सचिव विजय सिजवाली, प्रदेश सचिव हाजी सुहेल, पूर्व दर्जा राज्यमंत्री ललित जोशी, युवा कांग्रेस प्रदेश उपाध्यक्ष गुरप्रीत प्रिंस, जिला अध्यक्ष विजेंद्र गौनिया, प्रदेश महासचिव गोविंद बिष्ट, वरुण भाकुनी, पूर्व प्रमुख संध्या डालाकोटी, शशि वर्मा, महानगर उपाध्यक्ष सतनाम सिंह, प्रदेश सचिव मयंक भट्ट, प्रदेश उपाध्यक्ष महिला कमला शर्मा, पुष्पा नेगी, गोविंद बगड़वाल, ब्लॉक अध्यक्ष जाकिर भाई, रमेश नगरकोटी, किरन डालाकोटी, लवी चिलवाल, हेमंत साहू, पंकज कश्यप, जमील, अरमान, त्रिलोक कथायत, जीवन तिवारी, पूरन बिष्ट, मनोज श्रीवास्तव, महानगर महासचिव संदीप भैसोड़ा, प्रदीप बिष्ट सहित भारी संख्या में कांग्रेसी शामिल थे।

Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *