हल्द्वानी में एमटीएम कार्ड बदलकर पूर्व फौजी से ठगी करने का प्रयास, एटीएम में पैसे निकालते समय आप भी रहे सतर्क

खबर शेयर करें

समाचार सच, हल्द्वानी। अगर आप एटीएम से रुपये निकाल जा रहे थे तो समाचार सच न्यूज पोर्टल आपको सतर्क कर रहा है कि क्यों कि अब शातिर ठग हल्द्वानी महानगर में बैंकों के एटीएम में लोगों को अपना शिकार बनाने में लगे हुए हैं। शातिर ठग पहले एटीएम में पहुंचते हैं और फिर किसी तरह रुपये निकाल रहे व्यक्ति का एटीएम बदल लेते हैं और फिर उनके खातों से रुपये उड़ा लेते हैं। ऐसा ही एक मामला रविवार को दिनदहाड़े हल्द्वानी के कालाढूंगी चौराहे क्षेत्र से आया है। यहां श्री कालू सिद्ध मंदिर के निकट एसबीआई बैंके के एटीएम में दो शातिर ठगों ने बातों में लगाकर एक फौजी का एटीएम कार्ड बदल लिया और वहां से फरार हो गये। लेकिन कोतवाली तथा हीरानगर चौकी पुलिस की सजगता से शातिर ठग फौजी के बैंक खाते से रुपये निकालने में कामयाब न हो सके। फिलहाल पुलिस उक्त शातिर ठगों की तलाश में एटीएम के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरे खंगाल रही है। (क्रमश: नीचे पढ़े)

आपको बता दें कि बीते सप्ताह भी इस क्षेत्र में नैनीताल रोड स्थित सरस पार्किंग के पास लगे पीएनबी बैंक के एटीएम से भी इसी तरह एक व्यक्ति को झांसे में लेकर ठग ने उससे एटीएम कार्ड बदल लिया था। इसका मालूम उसे जब लगा जब उसने उसके खाते से उसकी हजारों की रकम उड़ा ली थी। (क्रमश: नीचे पढ़े)

यह भी पढ़ें -   धामी सरकार की ओर से 89,230.07 करोड़ का बजट पेश, महिलाओं से लेकर युवाओं तक पर खासा ध्यान

प्राप्त जानकारी के अनुसार पूर्व फौजी नारायण सिंह पुत्र स्व0 नंदन सिंह निवासी गौलापार खेड़ा रविवार करीब शाम को यहां कालाढूंगी चौराहा, श्री कालू सिद्ध मंदिर के निकट एसबीआई बैंक के लगे एटीएम से रुपये निकाल ने आये थे। जब नारायण एटीएम से रुपये निकाल रहे थे तभी दो ठग भी एटीएम के अंदर आ गये और बातों में लगाकर नारायण से उसका एटीएम बदल लिया और वहां से फरार हो गये। उनके जाने के बाद जब नारायण ने अपने एटीएम कार्ड को देखा तो उनके होश उड़ गये। उन्होंने देखा की उनके हाथ में 2022 की समाप्ति तिथि का पुराना कार्ड था। आनन-फानन में वह चिल्लाते हुए एटीएम से बाहर आये, लेकिन वह दोनो वहां पर मौजूद नहीं मिले। रुपये निकालने के लिये खड़े लोगों ने उन्हें बताया कि अंदर से आये दो लोग कार से चले गये हैं। नारायण ने शीघ्र ही कोतवाली गये और अपनी आपबीती पुलिस को सुनायी। पुलिस ने शीघ्र ही पहले तो उनके खाते को फ्रीज करवाया। बाद में कोतवाली व हीरा नगर चौकी पुलिस ने मौके पर पहुंचकर जांच पड़ताल की। इधर जांच पड़ताल में मालूम चला कि उनके रुपये सुरक्षित है तो नारायण व पुलिस ने राहत की सांस ली। जांच के दौरान पुलिस को एटीएम के बाहर खड़े लोगों से जिस कार से ठग फरार हुए, उस वाहन की संख्या का भी मालूम चली है। फिलहाल पुलिस ने उक्त वाहन संख्या व घटना स्थल लगे सीसीटीवी कैमरे की माध्यम से उक्त दो ठगों की तलाश में जुट गयी है। (क्रमश: नीचे पढ़े)

यह भी पढ़ें -   इम्युनिटी को बढ़ाने, फिटनेस को ठीक रखने और बीमारियों से बचाव के लिए आज से ही अपनी दिनचर्या में लाएं बदलाव

इन बातों का रखें ध्यान:
-एटीएम कार्ड उपयोग करने से पूर्व जांच लें कि एटीएम में कोई क्लोनिंग डिवाइस तो नहीं लगाया है, जिससे उनका कार्ड स्कैन होने का खतरा हो।
-कभी भी एटीएम कार्ड का पिन शेयर न करें।
-एटीएम में पिन लगाते वक्त कीपैड का दूसरे हाथ से ढक लें, ताकि किसी भी तरह के गुप्त कैमरे में भी पिन रिकार्ड न हो जाए।
-डेबिट या क्रेडिट कार्ड को शापिंग, रिचार्ज या दूसरे वालेट के लिए सेव या इस्तेमाल न करें।
-जहां तक संभव हो सके वहां तक सार्वजनिक स्थान पर स्थित एटीएम या जिस एटीएम पर गार्ड मौजूद हो, उसका ही प्रयोग करना चाहिए।
-शापिंग माल में भी प्रयास करें कि बिना ओटीपी वाली मशीन में लेनदेन न करें। अगर जरूरी है तो बैंक में जाकर सुरक्षित कार्ड जारी करवाएं, जो ओटीपी के जरिए ही लेनदेन पूरा करे।
-अपने कार्ड में निकासी की सीमा तय करके रखें, जिससे क्लोनिंग या ठगी होने पर एक सीमित मात्रा में ही पैसा निकल पाए।

Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज़ लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें

हमसे संपर्क करने/विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें - +91 70170 85440