बीटेक द्वितीय वर्ष कंप्यूटर साइंस के छात्र ने संदिग्ध परिस्थितियों के चलते लगाई फांसी, मौत

खबर शेयर करें

समाचार सच, देहरादून। यहां चौकी झाजरा पुलिस को सूचना मिली कि देवभूमि यूनिवर्सिटी के बॉयज हॉस्टल में रहने वाले युवक शुभम पुत्र जयप्रकाश निवासी सुघरी जिला सिवान बिहार उम्र 20 वर्ष द्वारा अपने रूम में फांसी लगाकर आत्महत्या कर दी गई है, सूचना पर चौकी झाजरा से पुलिस टीम मौके पर पहुंचे।

मौके पर मृतक शुभम के रूममेट तथा वार्डन द्वारा बताया गया कि सुबह 11 बजे के करीब मृतक शुभम मैस खाना खाकर अपने रूम में आ गया था, काफी देर तक जब उसके द्वारा कमरा नहीं खोला तो उसके साथियों द्वारा वार्डन को बुलाकर कमरे का दरवाजा तोड़कर अंदर देखा तो शुभम द्वारा गले में बेडशीट बांधकर वहां रखी हुई अलमारी से लटक कर फाँसी लगाई गई थी। जिसे वार्डन तथा उसके साथियों द्वारा पहले कैंपस के अंदर हॉस्पिटल में तथा उसके बाद ग्राफिक एरा हॉस्पिटल ले जाया गया। जहां डॉक्टर के द्वारा उसे मृत घोषित कर दिया।

यह भी पढ़ें -   उत्तराखण्ड के इस क्षेत्र के मतदाताओं ने किया चुनाव बहिष्कार, एक बूथ में मात्र 28 वोट पड़े

पुलिस द्वारा परिजनों को सूचित किया गया, जिनके पहुंचने के उपरान्त आज पंचायतनामे की कार्यवाही की गयी। आत्महत्या के कारणों की जांच की जा रही है। पुलिस के अनुसार मृतक वर्तमान में बीटेक द्वितीय वर्ष कंप्यूटर साइंस का छात्र था।

यह भी पढ़ें -   उत्तराखंड में 11 बजे तक कुल 24.83 फीसदी मतदान हुआ है, हरिद्वार और नैनीताल-उधमसिंह नगर हैं अव्वल

वहीं मामले की जानकारी मिलते ही पुलिस भी मौके पर पहुंची और जांच पड़ताल की। पुलिस को कमरे में से किसी भी तरह का कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है। शुभम के दोस्तों ने बताया कि वो बहुत कम बोलता था। हमेशा गुमशुम सा ही रहता था। फिलहाल शुभम ने ये कदम क्यों उठाया इसकी जानकारी नहीं मिल पाई है।

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज़ लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें

हमसे संपर्क करने/विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें - +91 70170 85440