हर तरह के दर्द को दूर कर इम्यूनिटी बूस्ट करता है, आयुर्वेद डा. से जानें सेंधा नमक के फायदे

Ad
खबर शेयर करें

समाचार सच, स्वास्थ्य डेस्क। नमक सोडियम और क्लोरीन से बना एक यौगिक है जिसे सोडियम क्लोराइड कहा जाता है। हमारे महासागरों में नमक पर्याप्त मात्रा में मौजूद है। इसका उपयोग भोजन के संरक्षण और स्वाद के लिए सदियों से किया जा रहा है। नमक इंसानों की बहुत ही बुनियादी जरूरत है। यह शरीर में इलेक्ट्रोलाइट्स को नियंत्रित करता है और आवेगों के संचालन में मदद करता है। बहरहाल, यहां हम सेंधा नमक को लेकर चर्चा कर रहे हैं जिसे आमतौर पर लोग उपवास के दौरान प्रयोग में लाते हैं।
सेंधा नमक में साधारण नमक से ज्यादा मिनरल्स और कंपाउड्स पाए जाते हैं जो सेहत के लिए कई तरह से फायदेमंद होते हैं। सेंधा नमक को लेकर हमने लखनऊ स्थित विवेकानंद पोलीक्लीनिक (आयुर्वेद) के सीनियर कंसल्टेंट फिजीशियन डा. विजय सेठ से बात की। उन्होंने इसके कई तरह के स्वस्थ्य लाभ बताए हैं। आइए, जानते है कि साधारण नमक से क्यों अच्छा है सेंधा नमक का सेवन…

पाचन में सुधार करता है

खान-पान के अलावा सेंधा नमक का उपयोग सदियों से विभिन्न बीमारियों के इलाज के लिए किया जा रहा है। यह कब्ज, एसिडिटी और सूजन को दूर करने के लिए एक बेहतरीन घरेलू उपाय के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है। सेंधा नमक में मौजूद मिनरल्स मल त्याग को तेज करते हैं। यह हमारी आंत में मौजूद विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने में हमारी मदद करता है। आप गर्म पानी में 1-2 चुटकी नमक मिला सकते हैं और फिर सोने से पहले पीने के लिए आधा नींबू मिला सकते हैं।

यह भी पढ़ें -   खाने में कहीं आप तो नहीं करते ये गलती, फायदे लेने हैं तो आयुर्वेदिक डॉक्टर से जानें कौन सा लहसुन है बेहतर

इम्यूनिटी बूस्ट करता है सेंधा नमक

एक्सपर्ट के अनुसार, सेंधा नमक न केवल खनिजों से भरपूर होता है, इसमें विटामिन ज्ञ होता है जो हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में मदद करता है। शरीर में विभिन्न प्रोटीनों को संश्लेषित करने के लिए विटामिन ज्ञ की आवश्यकता होती है जो रक्त के थक्के जमने में मदद करते हैं। विटामिन के स्वस्थ हड्डियों के ऊतकों और अन्य महत्वपूर्ण शारीरिक कार्यों के निर्माण में भी सहायता करता है। आप अपने नियमित भोजन के स्वाद के लिए भी सेंधा नमक का उपयोग कर सकते हैं।

शुगर क्रेविंग को कम करने में मदद करता है

कुछ शोध किए गए हैं जो इस बात पर जोर देते हैं कि सेंधा नमक शरीर में इंसुलिन को उत्तेजित करने की क्षमता रखता है जो न केवल शरीर में रक्त शर्करा के स्तर को कम करने में भी मदद करता है, बल्कि यह आपको शर्करा की कमी को दूर करने में भी मदद कर सकता है। आप इस नमक को फलों पर थोड़ा छिड़ककर भी खा सकते हैं।

रक्तचाप को नियंत्रित करता है

डा. विजय सेठ बताते हैं कि सेंधा नमक में सोडियम, पोटेशियम, कैल्शियम, जिंक, कापर जैसे कई पोषक तत्व पाए जाते हैं जो शरीर के ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल करने में मददगार होते हैं। उच्च रक्तचाप से पीड़ित मरीजों को किसी भी उतार-चढ़ाव से बचने के लिए अपनी दैनिक जीवन शैली में नमक का सेवन नियंत्रित करना चाहिए।

यह भी पढ़ें -   एनीमिया क्या है, लक्षण, कारण, उपचार और रोकथाम

मांसपेशियों में ऐंठन से राहत

सेंधा नमक सोडियम क्लोराइड का एक अधिक शुद्ध रूप है। इसमें पोटैशियम भी अच्छी मात्रा में होता है। ये खनिज शरीर में इलेक्ट्रोलाइट असंतुलन से निपटने में मदद करते हैं जिससे आपको मांसपेशियों में ऐंठन से कुछ राहत मिलती है। प्रभावित जगह पर दर्द से राहत पाने के लिए आप गर्म पानी के साथ सेंधा नमक का भी इस्तेमाल कर सकते हैं।

नींद की गुणवत्ता में सुधार करता है

डॉ. का कहना है सेंधा नमक अनिद्रा की समस्या को भी दूर कर सकता है। रात की नींद भी आपके मेटाबालिज्म को 70 प्रतिशत तक कम कर सकती है। सेंधा नमक का शरीर पर ठंडक का प्रभाव पड़ता है। आप अपने बाडी वाश, बाथ टब आदि में थोड़ा सा सेंधा नमक मिला सकते हैं। ये आपके शरीर को धीरे-धीरे ऊर्जा से भरने में मदद करते हैं और विषाक्त पदार्थों को हटाते हैं। बेहतर तनाव राहत अनुभव के लिए आप आवश्यक तेलों की कुछ बूँदें भी जोड़ सकते हैं।

स्वस्थ बालों के विकास को बढ़ावा देता है

यह बालों से प्राकृतिक तेल निकाले बिना आपके बालों को साफ करने में आपकी मदद कर सकता है। आप अपने नियमित शैम्पू में एक चम्मच सेंधा नमक मिला सकते हैं। यह स्कैल्प की अन्य समस्याओं को भी बिना नुकसान पहुंचाए इलाज करने में मदद कर सकता है।

गले की खराश और साइनस में मदद करता है

डा. का कहना है कि अगर आपके गले में खराश है तो सेंधा नमक आपकी मदद कर सकता है, हमें सलाह दी जाती है कि गर्म पानी और सेंधा नमक से गरारे करें। यह टान्सिल में सूजन को कम करने में मदद करता है। इसमें सेंधा नमक के साथ भाप लेने से भी साइनस में काफी फायदा मिलता है। कुछ हफ्तों के लिए नियमित भाप आपको साइनस को पूरी तरह से दूर करने में मदद कर सकती है, क्योंकि यह नाक के मार्ग को साफ रखने में मदद करेगी।

यह भी पढ़ें -   खाने में कहीं आप तो नहीं करते ये गलती, फायदे लेने हैं तो आयुर्वेदिक डॉक्टर से जानें कौन सा लहसुन है बेहतर

आयुर्वेद वैद्य विजय सेठ का कहना है कि शरीर में विभिन्न महत्वपूर्ण कार्यों के लिए खनिजों की आवश्यकता होती है जैसे ग्लूकोज को ऊर्जा में परिवर्तित करना, मांसपेशियों की कार्यप्रणाली और हार्माेन्स स्ट्रक्चर। इन सभी सिचुएशन में आपके लिए सेंधा नमक उपयोगी साबित हो सकता है।

स्किन के लिए फायदेमंद

-सेंधा नमक एक बेहतरीन एक्सफोलिएटर है। यह आपके चेहरे पर मौजूद सभी गंदगी और तेल से छुटकारा पाने में आपकी मदद कर सकता है। इसे बाडी स्क्रब के रूप में भी इस्तेमाल किया जा सकता है। सेंधा नमक रोमछिद्रों को गहराई से साफ करने में भी मदद करता है जो चेहरे के दाग-धब्बों को कम करने में भी मदद करता है।

-बाहरी रूप से उपयोग किए जाने पर भी यह त्वचा से विषाक्त पदार्थों को निकालने में मदद कर सकता है। आप अपने नियमित फेस वाश या क्लीन्ज़र में बस एक टेबल स्पून नमक मिला सकते हैं और आपका जाना अच्छा रहेगा।

Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *