भारत में यहां ओमीक्रोन के दो मामले मिलने से बढ़ी चिंताएं, स्वास्थ्य मंत्रालय एलर्ट

खबर शेयर करें

समाचार सच, नई दिल्ली (एजेन्सी)। बेंगलुरु महानगर पालिका द्वारा साझा किए गए ट्रैवल हिस्ट्री के रिकॉर्ड के अनुसार ओमिक्रॉन से संक्रमित दो यात्रियों में से एक ने यूएई की यात्रा की थी। इंडिया टुडे की रिपोर्ट के अनुसार, 66 वर्षीय शख्स, जो 20 नवंबर को भारत आया था और टेस्ट के दौरान कोरोना पॉजिटिव पाया गया था, ने कथित तौर पर सात दिन बाद दुबई के लिए उड़ान भरी थी।

Ad

स्वास्थ्य मंत्रालय के द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार ओमीक्रोन संक्रमित दोनों व्यक्तियों की उम्र 66 वर्ष और 46 वर्ष है। ये दोनों मामले जीनोम सीक्वेंसिंग के द्वारा ही पता लगाए गए हैं। हालांकि स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा है कि हमें घबराने की जरूरत नहीं है। लेकिन कोरोना प्रोटोकॉल का पालन किए जाने की सख्त आवश्यकता है। देश में कोरोना वायरस के मामले भी काफी तेजी से बढ़ने लगे हैं। इसकी वजह से कई शहरों में ऐहतियातन बचाव के उपाय शुरू कर दिए गए हैं। राजधानी दिल्ली में बुधवार को कोरोना वायरस के 39 नए मरीज मिले। हालांकि किसी भी संक्रमित के दम तोड़ने की पुष्टि नहीं हुई। यहां संक्रमण दर 0.07 प्रतिशत है।

यह भी पढ़ें -   जिला निर्वाचन अधिकारी ने किया हल्द्वानी महानगर के मतदान केंद्रो का निरीक्षण

कोविड-19 के ओमीक्रोन स्वरूप ने भी विश्व की परेशानी और बढ़ा दी है। वायरस के नए स्वरूप से संक्रमण के मामले कई जगह सामने आए हैं। इसके चलते जापान समेत कई देशों ने यात्रा प्रतिबंधों को कड़ा कर दिया। अमेरिका में भी ओमिक्रोन का पहला मामला पाया गया है। दक्षिण अफ्रीका से 22 नवंबर को अमेरिका पहुंचे शख्स में संक्रमण कि पुष्टि हुई है। ओमीक्रोन के बारे में ज्यादा जानकारी अभी नहीं है, जैसे कि यह कितना संक्रामक है, क्या यह टीकों को चकमा दे सकता है आदि। हालांकि,यूरोपीय आयोग प्रमुख ने स्वीकार किया है कि विश्व को इस बारे में वैज्ञानिकों का और जवाब देना लंबा खींच सकता है।

Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *