इस समय रोज पिएंगे हल्दी का पानी तो जीवनभर स्वस्थ रहेंगे आप

खबर शेयर करें

समाचार सच, स्वास्थ्य डेस्क। हल्दी गुणों की खान है और गर्म पानी के साथ मिलाकर लेने पर इसके फायदे दोगुने हो जाते हैं। जानिए कि हल्दी का पानी पीने का सही समय क्या है और इसके क्या लाभ होते हैं?
हल्दी एक ऐसी जड़ी-बूटी है जिससे स्वास्थ्य को कई अद्भुत लाभ मिलते हैं। खाने का स्वाद बढ़ाने के लिए भी भारत में हल्दी का इस्तेमाल खूब किया जाता है। हल्दी को भोजन या दूध में ही नहीं बल्कि गर्म पानी में भी मिलाकर पीने से स्वस्थ रहा जा सकता है। हल्दी एंटीऑक्सीडेंट की तरह काम करती है और इसमें सूजन-रोधी एवं बैक्टीरिया-रोधी गुण भी होते हैं।

Ad

जी हां, आज इसके जरिए हम आपको बताने जा रहे हैं कि गर्म पानी में हल्दी मिलाकर पीने से क्या लाभ होता है और किस समय पीने से आपको इसके सबसे ज्घयादा लाभ मिल सकते हैं।
गर्म पानी और हल्दी के फायदे
-हल्दी में लिपोपोलीसैचिरिड होता है जो इम्यून सिस्टम को मजबूत करता है और फ्लू एवं सर्दी-जुकाम के खतरे को कम करता है।
-हल्दी के बैक्टीरिया-रोधी प्रभाव से घाव को जल्दी भरने में मदद मिलती है। हल्दी का पानी सूजन को जोड़ों के ऊतकों को नुकसान पहुंचाने से रोकती है जिससे जोड़ों में दर्द और आर्थराइटिस जैसी समस्याओं से बचाव या राहत मिलती है।
-हल्दी में ट्यूमर को रोकने के गुण होते हैं इसलिए हल्दी का पानी पीने से काफी हद तक कैंसर के खतरे को कम किया जा सकता है। ये कार्डियोवस्कुलर डिजीज और स्ट्रोक का कारण बनने वाले कोलेस्ट्रोल के लेवल को भी कम करता है।
-हल्दी के सूजन-रोधी गुण मस्तिष्क को अल्जाइमर रोग से बचाते हैं और बढ़ती उम्र में होने वाले अन्य मानसिक विकारों से भी रक्षा करते हैं।
-हल्दी का पानी शरीर में फैट जमने से भी रोकता है जिससे वजन कम करने में मदद मिलती है।
यूं ही नहीं हल्दी का सेवन रोज किया जाता, होते हैं जबरदस्त फायदे
-त्वचा संबंधी कई समस्याओं के लिए भी हल्दी का सेवन फायदेमंद रहता है। इतना ही नहीं आप अपनी त्वचा में निखार लाने के लिए हल्दी के लेप का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। हल्दी का इस्तेमाल खासकर ब्रेस्ट कैंसर की सर्जरी के बाद काफी फायदेमंद माना जाता है, क्योंकि उसके बाद पूरे शरीर की त्वचा पर एलर्जी होने लगती है और स्किन इरिटेशन की समस्या देखने को मिलती है जिससे सुरक्षा पाने के लिए हल्दी का इस्तेमाल बेहद लाभकारी साबित माना जाता है।
-आमतौर पर यह स्वास्थ्य समस्या बुजुर्गों में देखने को मिलती है। जिसके कारण बढ़ती उम्र के साथ उनकी याददाश्त कमजोर होने लगती है। इस समस्या से बचे रहने के लिए भी हल्दी उपयोगी साबित होगी। इस पर नेशनल सेंटर फॉर कांप्लीमेंट्री एंड इंटीग्रेटिव हेल्थ के द्वारा किए गए अध्ययन में यह देखा गया कि हल्दी में मौजूद करक्यूमिन अल्जाइमर रोग की स्थिति को सुधारने और इससे बचे रहने के लिए भी सक्रिय रूप से मदद कर सकती है।
-हल्दी का सेवन करने से हृदय रोग में भी बहुत फायदा मिलता है और अगर आपके घर में भी कोई हृदय रोग से परेशान है तो उसके डाइट में हल्दी जरूर शामिल करें। वैज्ञानिक अध्ययन के अनुसार सर्जरी के बाद आने वाले हार्ट अटैक के खतरे को हल्दी के सेवन से काफी हद तक टाला जा सकता है। हृदय रोगी इसका सेवन रात में सोने से पहले दूध के साथ भी कर सकते हैं।
-कई लोगों के मुंह से बदबू आने की भी समस्या रहती है जिसके कारण कभी-कभी उन्हें शर्मिंदगी भी झेलनी पड़ती है। इसलिए ओरल हेल्थ से जुड़ी हुई किसी भी समस्या से बचने के लिए हल्दी का इस्तेमाल काफी लाभदायक होगा। हल्दी में एंटीबैक्टीरियल एक्टिविटी पाई जाती है। इस कारण जब आप हल्दी का सेवन करते हैं तो यह मुंह में मौजूद बैक्टीरिया को मारने के लिए सक्रिय रूप से कार्य करता है और ओरल हेल्थ में काफी मददगार साबित हो सकता है।
-घुटनों की बीमारी से कई लोग पीड़ित रहते हैं और यही वजह है कि उन्हें अक्सर हल्दी खाने की या फिर घुटनों पर लगाने की सलाह दी जाती है। ऐसा इसलिए कहा जाता है क्योंकि हल्दी में पेन किलर का गुण पाया जाता है जो शरीर में होने वाले दर्द को दूर करने में सक्रिय रूप काम करता है।
-कैंसर आज एक ऐसी बीमारी बन चुकी है जो हर साल हजारों लोगों की जान ले जाती है। इस जानलेवा बीमारी से बचे रहने के लिए भी हल्दी का सेवन बहुत जरूरी है। दरअसल, हल्दी में एंटी कैंसर एक्टिविटी पाई जाती है जो कैंसर से बचाए रखने में काफी मददगार साबित हो सकती है। इसलिए आप अपनी डायट में हल्दी का सेवन किसी न किसी खाद्य पदार्थ के जरिए अवश्य करें।
-डायबिटीज की समस्या से आज भारत में करोड़ों लोग परेशान हैं और इसके जोखिम से बचने के लिए खान-पान पर विशेष ध्यान देना बहुत जरूरी है। वहीं, बात की जाए अगर हल्दी की तो नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ हेल्थ के द्वारा किए गए अध्ययन के अनुसार हल्दी का सेवन करने से डायबिटीज का खतरा कम होता है और जो लोग डायबिटीज से पीड़ित हैं उन्हें इसके कारण होने वाले जोखिम से भी बचे रहने में काफी मदद मिलती है। इसलिए डायबिटीज से पीड़ित लोग हल्दी का सेवन नियमित रूप से अवश्य करें।
-अनिद्रा की समस्या से बचे रहने के लिए भी हल्दी का सेवन काफी फायदेमंद साबित होगा। हल्दी में मेलाटोनिन नामक हार्माेन को बढ़ाने का गुण पाया जाता है। इसलिए सोने से पहले यदि आप गोल्डन ड्रिंक के रूप में इसका सेवन करते हैं तो आपको जल्दी नींद आएगी और आप स्ट्रेस फ्री भी महसूस करेंगे।

  • इसके साथ-साथ इस बात का भी विशेष ध्यान रखें कि हल्दी की तासीर गर्म होती है।
    हल्दी का पानी कब पिएं
    अगर आप हल्दी के पानी के भरपूर लाभ पाना चाहते हैं तो रोज सुबह खाली पेट इसका सेवन करें। सुबह के समय इस पानी को पीने से आपको सबसे ज्यादा लाभ मिलेंगे।
    कैसे बनाएं हल्दी का पानी
    हल्दी का पानी बनाने का तरीका इस प्रकार है –
  • एक गिलास गर्म पानी लें और उसे उबलने के लिए गैस पर रख दें।
  • अब इसमें एक छोटी चम्मच हल्घ्दी पाउडर डालें और अच्छी तरह से मिक्स कर लें।
  • स्वाद के लिए आप इसमें शहद भी डाल सकते हैं।
  • इस पानी को रोज सुबह पिएं।
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *