सर्दियों में मूंगफली खाने से फैट और कोलेस्ट्रॉल दोनों का ही लेवल कम रहता है

खबर शेयर करें

समाचार सच, स्वास्थ्य डेस्क। सर्दियों में दिन छोटे होने लगे हैं हवा में ठण्ड महसूस होने लगी है। धूप अब कुछ अच्छी सी लगने लगी है। साथ ही बाज़ारों में मूंगफली के ठेले लगने लगे है। इन सभी बातों को एक बात में कहूं तो सर्दियां आ गयी हैं और सर्दियों में टाइम पास करने के लिए चाय और कॉफ़ी के साथ सबसे ज्यादा मूंगफली खायी जाती है। अगर आप भी है मूंगफली के शौक़ीन हैं तो आपको इसके फायदे और नुकसान के बारे में पता होना चाहिए।

क्यों सर्दियों में खायी जाती है मूंगफली?
सर्दियों में मूंगफली को ज्यादा खाया जाता है क्योंकि इसकी तासीर गर्म होती है। ये किसी दवा से कम नहीं होती। इसमें भरपूर मात्रा में प्रोटीन के साथ साथ विटामिन्स भी होते हैं। इसलिए सर्दियों में इसको खाना सेहत के लिए बहुत अच्छा होता है। मूंगफली में पॉलीफेनोल होता है जो कि एक एंटी ऑक्सीडेंट होता है। ये हमें वज़न कम करने में मदद करता है। मूंगफली को सस्ता बादाम भी कहा जाता है क्योंकि इसमें बादाम जितने पोषक तत्त्व होते हैं। ये हमें सर्दियों की कई समस्याओं से बचाता है। आप एक दिन में 40 ग्राम यानी करीब एक मुट्ठी मूंगफली खा सकते हैं। इससे फैट और कोलेस्ट्रॉल दोनों का ही लेवल कम हो सकता है।
 
क्या होता है मूंगफली खाने का सही तरीका?

आप मूंगफली को कच्चा खा सकते हैं। साथ ही इसको भूनकर, भिगोकर, फ्राई करके स्नैक्स की तरह, इसकी चटनी बनाकर आदि तमाम तरीकों से खा सकते हैं। इसके अलावा सर्दी के दिनों में मिलने वाली गजक और तमाम मिठाइयों में भी मूंगफली का इस्तेमाल किया जाता है। इनके जरिए भी हम मूंगफली के फायदे ले सकते हैं। पीनट बटर के तौर पर भी इसका सेवन किया जा सकता है। लेकिन मूंगफली खाने के बाद आपको पानी नहीं पीना चाहिए, साथ ही दूध, आइसक्रीम, खट्टे फलों को भी खाने से बचना चाहिए।

यह भी पढ़ें -   उत्तराखंड बोर्ड के 10वीं और 12वीं एग्जाम आज शुरू, दो लाख से ज्यादा विद्यार्थी परीक्षा में शामिल

क्या हैं मूंगफली खाने के फायदे?

  1. मूंगफली की तासीर गर्म होने की वजह से यह सर्दियों में आपके शरीर को गर्माहट देती है। 
  2. मूंगफली के सेवन से स्किन को पोषण मिलता है, ये स्किन के टॉक्सिन्स को बाहर निकाल कर स्किन के पीएच का संतुलन बना के रखती है। 
  3. मूंगफली को स्किन के लिए भी अच्छा माना जाता है। सर्दियों में ये स्किन को ड्राई होने से रोकती है।
  4. अल्जाइमर रोग होने पर व्यक्ति की याददाश्त प्रभावित होती है, ऐसे में मूंगफली फायदेमंद साबित हो सकती है।
  5. मधुमेह (डायबिटीज) से पीड़ित लोग भी मूंगफली का सेवन कर सकते हैं। मूंगफली का घर पर बटर बनाकर खाया जाए तो इससे टाइप-2 डायबिटीज का खतरा कम हो सकता है।
  6. रात में मूंगफली खाने से पाचन शक्ति बढ़ती है और साथ ही वजन भी कम होता है।
यह भी पढ़ें -   हल्द्वानी में बच्चे के लिए दूध लेने जा रही महिला को तेज रफ्तार कार ने उड़ाया, दर्दनाक मौत

मूंगफली कब ना खाएं?

जब आपको ब्लोटिंग, कब्ज़, गैस या अपच जैसी समस्या हो तब आपको मूंगफली के सेवन से बचना चाहिए। वैसे तो आप सर्दियों में रोज़ मूंगफली खा सकते हैं, लेकिन अगर आपको सेहत से जुड़ी कोई समस्या है तो ऐसे में एक बार आप डॉक्टर की सलाह ले सकते है।

Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज़ लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें

हमसे संपर्क करने/विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें - +91 70170 85440