1 3

एडुमाउंट एंड यूरोकिड्स इंटरनेशनल स्कूल ने धूमधाम से मनाया माता-पिता दिवस समारोह, स्कूली बच्चों ने पारंपरिक नृत्य व संगीत से दिया राष्ट्रीय एकता का संदेश

खबर शेयर करें

समाचार सच, हल्द्वानी। एडुमाउंट एंड यूरोकिड्स इंटरनेशनल स्कूल ने माता-पिता दिवस समारोह धूमधाम से मनाया। इस मौके पर जहां एक ओर स्कूली बच्चों ने रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति से उपस्थित लोगों का मन मोह लिया, वहीं दूसरी ओर नन्हे-मुन्ने बच्चों ने पारंपरिक नृत्य व संगीत से राष्ट्रीय एकता का संदेश भी दिया। आपकों बता दें कि समारोह का विषय सिम्फनी ऑफ यूनिटी था, जो छोटे बच्चे और बच्चे दुनिया भर से अद्भुत नृत्य करते हैं और शांति और सद्भाव का संदेश देते हैं जो आज मानव जाति के लिए है।

समारोह का शुभारम्भ मुख्यअतिथि जिला सैनिक लीग के अध्यक्ष एवं अवकाश प्राप्त मेजर बी0एस0 रौतेला ने दीप प्रज्ज्वलित कर किया। उन्होंने अपने सम्बोंधन में बच्चों की अद्भुत कला की प्रशंसा करते हुए कहा कि हर व्यक्ति के अंदर कलाकार छिपा होता है। उसे निखारने के लिए गुरु व मंच की जरूरत होती है। जिसे स्कूल के प्रबंधक व परिवार ने बखूबी से निभाया है। उन्होंने बच्चों का आहवान करते हुए कहा कि इस संसार में माता-पिता से बढ़कर कोई रिश्ता नहीं। चाहे हम कितने ही बड़े हो जाए परंतु माता-पिता की छांव में जो सुख मिलता है वह अनमोल है।

यह भी पढ़ें -   सरकारी आवास पर मिला हल्द्वानी रेंज में तैनात वन बीट अधिकारी का शव, अप्रैल माह में होनी थी शादी

स्कूल के निदेशक कर्नल संदीप सेन ने अपने सम्बोंधन में विद्यार्थियों को सदैव माता पिता की सेवा करने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने कहा कि आज के समारोह में बच्चों ने जो रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम की आकर्षक प्रस्तुति दी है, वो काबिले तारिफ है। उनका कहना है कि इसके लिये उन्होंने अपने स्कूली शिक्षकों व कर्मचारियों की भूरि-भूरि प्रंशसा की।

यह भी पढ़ें -   इम्युनिटी को बढ़ाने, फिटनेस को ठीक रखने और बीमारियों से बचाव के लिए आज से ही अपनी दिनचर्या में लाएं बदलाव

प्रधानाचार्या नम्रता सेन तथा सह प्रधानाचार्या प्रियंका आसवानी ने संयुक्त रूप से सभी मुख्यअतिथि व समस्त आगुन्तकों का आभार व्यक्त करते हुए स्कूल की क्रिया-कलापों के बारे में विस्तार से बताया।

कार्यक्रम का शुभारम्भ योग से शुरू हुआ और फोर्क फ्यूजन डांस के साथ समाप्त हुआ, जिसने संदेश दिया कि संगीत सभी जाति, धर्म और राष्ट्रीयता के बीच का प्रमुख आधार तथा भाषा है।
कार्यक्रम का सफल संचालन अनुश्री, अब्दुल समद भव्य, काव्या और सिद्धार्थ ने किया। कार्यक्रम के नृत्य रचनाकार – रुचिका बिस्ट, कविता नेगी, सृष्टि सती, तारा मेलकानी, अंजू रावत, अंकिता नौला, हेमा, रीना डफोटी, सोम्या जोशी, रेनू, जयश्री जोशी, हेमलता, सिमरन, सोनाली आदि थे।

Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज़ लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें

हमसे संपर्क करने/विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें - +91 70170 85440