सोशल मीडिया में छुट्टी का झूठा शासनादेश वायरल, नैनीताल में स्कूल से लौटाये बच्चे, डीएम ने दिये जांच के आदेश

खबर शेयर करें

समाचार सच, नैनीताल। सोशल मीडिया में छुट्टी का झूठा शासनादेश वायरल होने से नैनीताल में कई स्कूलों के बच्चों को लौटाया गया। आपकों बता दे कि मौसम विभाग द्वारा शुक्रवार को अलर्ट जारी किया था लेकिन जिला प्रशासन की ओर से स्कूलो में अवकाश को लेकर कोई आदेश जारी नहीं किया गया था। लेकिन एक झूठा शासनादेश सोशल मीडिया में वायरल होने से स्कूलों में भ्रम की स्थिति फैल गयी। जिसके बाद कई स्कूलों में पहुंचे बच्चों को वापस लौटा दिया गया।

यह भी पढ़ें -   बर्तन चमकाने के नाम पर युवक से ठगी, सोने की चेन ले उड़े बदमाश, आप भी रहे सावधान…

बाद में अवकाश का शासनादेश झूठा साबित हुआ। पता चला कि कोई पुराना शासनदेश को एडिट करके उसे सोशलमीडिया में डाला गया है। इसके बाद स्कूलों के प्रबन्धकों द्वारा मोबाइल पर एसएमएस भेजकर कहा कि आज अवकाश नहीं, आप लोग स्कूल वापस आ जाएं। देरी की कोई बात नहीं।

इधर सोशल मीडिया में वायरल किये गये संदेश से भ्रामक सूचना प्रसारित करने के मामले में जिलाधिकारी धीराज गर्ब्याल ने एसएसपी को पत्र भेजकर कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। डीएम ने कहा कि वायरल पत्र से आमजन को अनावश्यक परेशानियों में डाला गया। जिम्मेदारों पर कार्रवाई की जाएगी। डीएम ने कहा कि भविष्य में भी ऐसे शरारती लोगों द्वारा भ्रामक संदेश प्रसारित कर राजकीय कार्यों में बाधा पहुँचायी जा सकती है। उक्त प्रकरण में सुसंगत धाराओं के अन्तर्गत प्राथमिकी दर्ज कराते साइबर सेल के माध्यम से जाँच कराते हुए ऐसे शरारती तत्वों की पहचान करने एवं विधिक कानूनी कार्रवाई करें।

Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज़ लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें

हमसे संपर्क करने/विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें - +91 70170 85440