वन अनुसंधान संस्थान में मनाया गया अंतर्राष्ट्रीय वन दिवस, प्रदर्शनी में पोस्टर के माध्यम से तकनीकी व वैज्ञानिक जानकारियां की साझा

खबर शेयर करें

समाचार सच, देहरादून। वन अनुसंधान संस्थान देहरादून में आज अंतर्राष्ट्रीय वन दिवस मनाया गया। इस अवसर पर एफआरआई के मुख्य भवन में ‘‘वन और सतत उत्पादन व खपत‘‘ विषय पर एक प्रदर्शनी का आयोजन किया गया। प्रदर्शनी का उद्घाटन प्रभारी निदेशक श्री आर.पी. सिंह, भा.व.से. के कर-कमलों से किया गया। प्रदर्शनी में पोस्टर और अन्य प्रदर्शन सामग्री के माध्यम से वैज्ञानिक और तकनीकी जानकारी साझा की गई। इस अवसर पर संस्थान के सभी प्रभागों के प्रमुख, वैज्ञानिक और एफआरआई के अधिकारीगण उपस्थित थे। वन संरक्षण प्रभाग की ओर से पोस्टर और प्रदर्शनियों के माध्यम से प्रभाग द्वारा विकसित पर्यावरण के अनुकूल प्रौद्योगिकियों को प्रदर्शित किया गया। माइकोराइजा और बैक्टीरिया से जुड़े विभिन्न पर्यावरणीय परिस्थितियों में उगने वाली विभिन्न वन वृक्ष प्रजातियों के लिए विकसित जैव-उर्वरक भी प्रदर्शित किए गये। वन संवर्धन एवं प्रबंधन प्रभाग की ओर से लगाई गई स्टॉल में विभिन्न प्रजातियों जैसे कि काष्ठ, औषधीय, तिलहन, कृषि वानिकी और विभिन्न प्रकार के पौधों के बीज प्रदर्शित किए गये। रसायन विज्ञान और जैव पूर्वेक्षण प्रभाग के स्टॉल में पादप बायोमास से प्राकृतिक रंगों के विकास और प्राकृतिक रंगों से रंगे हुए कपड़ों का प्रदर्शन किया गया। चीड़ के पीरुल से विकसित प्राकृतिक रेशे और चीड़ के रेशों से बनी वस्तुओं को भी दर्शाया गया। आनुवांशिक एवं वृक्ष सुधार प्रभाग ने कुछ महत्वपूर्ण पेड़ प्रजातियों जैसे डैलबर्जिया सिसू, मीलिया डूबिया, अजाडीरेच्टा इंडिका, सल्वाडोरा, बांस और रिंगाल आदि को प्रदर्शित किया। इस अवसर पर वानिकी और प्रकृति विषय पर एक फोटो प्रतियोगिता का भी आयोजन किया गया। काष्ठ शरीर एनाटॉमी शाखा ने काष्ठ की पहचान की प्रक्रिया पर पोस्टर प्रदर्शित कर काष्ठ की पहचान की आवश्यकता के बारे में जानकारी साझा की। विस्तार प्रभाग ने निबंध एवं चित्रकला प्रतियोगिता का आयोजन किया, जिसमें नवोदय एवं केन्द्रीय विद्यालयों के विद्यार्थियों ने भाग लिया। छात्रों को दो ग्रुप जूनियर (6वीं से 8वीं) और सीनियर (9वीं से 12वीं) में बांटा गया था। विजेताओं को प्रथम, द्वितीय, तृतीय व सांत्वना पुरस्कार से पुरस्कृत किया गया। प्रचार और संपर्क कार्यालय ने वाटर कलर पेंटिंग के माध्यम से जंगल के महत्व को दिखाया। प्रदर्शनी में अन्य प्रभागों ने भी अपनी गतिविधियों से संबन्धित जानकारी साझा की। अंतर्राष्ट्रीय वन दिवस के उपलक्ष्य पर वन अनुसंधान संस्थान के सभी संग्रहालय सभी आगंतुकों के लिए निःशुल्क खुले रहे।

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज़ लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें

हमसे संपर्क करने/विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें - +91 70170 85440

Leave a Reply

Your email address will not be published.