पूर्व बीडीसी मेंबर अर्जुन ने दी चेतावनी- सब्र का बांध टूट चुका है अब एक दिसम्बर से बैठेंगे भूख हड़ताल पर

खबर शेयर करें

समाचार सच, हल्द्वानी। विगत लगभग डेढ़ माह से गौलापार क्षेत्र में खेतों में सिंचाई के लिये पानी की ना मिल पाने से काश्तकार परेशान है। कई बार इस बावत शासन-प्रशासन को अगवत कराने के बावजूद भी सिंचाई से जुड़ी समस्या का समाधान नहीं हो पाया है, जिससे गौलापार के काश्तकारों गहरा आक्रोश व्याप्त हैं। इस समस्या पर पूर्व बीडीसी मेंबर अर्जुन बिष्ट व पीड़ित काश्तकारों ने चेतावनी देते हुए कहा है कि सब्र का बांध टूट चुका है अब मजबूरन उन्हें एक दिसम्बर से हल्द्वानी के बुद्ध पार्क में भूख हड़ताल शुरू करेंगे। जिसकी जिम्मेदारी शासन-प्रशासन की होगी।

Ad

पूर्व बीडीसी मेंबर अर्जुन का कहना है कि अक्टूबर 18 व 19 तारीख को दो दिन तक बारिश का दौर चला था। जिससे गौला समेत अन्य नदियां उफान पर आ गई थी। काठगोदाम में पुराने गौला के पास से निकलने वाली सिंचाई विभाग की मुख्य नहर भी पूरी तरह टूट गई थी। यह नहर पूरे गौलापार क्षेत्र को पानी पहुंचता था। उनका कहना था कि विभाग के अनदेखी करने पर काश्तकारों ने सड़क जाम कर दी थी। जिसके बाद जल्द मरम्मत के आश्वासन पर उन्होंने धरना समाप्त किया था। लेकिन अगले दिन पुलिस ने प्रदर्शनकारियों पर कई धाराओं में मुकदमे दर्ज कर लिए। लेकिन नहरों की मरम्मत फिर भी नहीं हुई। उन्होंने बताया कि नवाड़खेड़ा में जरनेटर की मदद से बरसाती नाले से पानी खींचा जा रहा है। जबकि खेड़ा में यह विकल्प भी नहीं है। उन्होंने कहा कि अब काश्तकारों का सब्र का बांध टूट चुका है अब काश्तकारों को एक दिसंबर से मजबूरन भूख हड़ताल पर बैठेंगे।

Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *