चैत्र माह की पूर्णिमा तिथि को हनुमान जन्मोत्सव का पर्व मनाया जाता है बनने लगेंगे बिगड़े काम

खबर शेयर करें

समाचार सच, अध्यात्म डेस्क। सनातन धर्म में राम भक्त हनुमान जी की पूजा आराधना का बहुत अधिक महत्व माना जाता है। मान्यता है कि जिस व्यक्ति पर हनुमान जी की कृपा बरसती है, उसके जीवन में भूलकर भी कोई दुःख या परेशानी नहीं आती है। हनुमान जी कृपा से उसे जीवन से जुड़े सभी सुख और सौभाग्य प्राप्त होते हैं। अष्टसिद्धि के दाता श्री हनुमान जी की पूजा के लिए मंगलवार का दिन बेहद शुभ माना गया है। हिंदू पंचांग के अनुसार प्रत्येक वर्ष चैत्र माह की पूर्णिमा तिथि को हनुमान जयंती का पर्व मनाया जाता है। इस बार 23 अप्रैल मंगलवार को हनुमान जयंती मनाई जाएगी। इस दिन पवन पुत्र हनुमान को प्रसन्न करने के लिए लोग कई तरह के उपाय करते हैं। हनुमान जी की जयंती के दिन अगर आप कुछ उपाय करते हैं तो आपकी सारी परेशानियों का अंत हो सकता है।

यह भी पढ़ें -   आषाढ़ माह में इन चीजों का दान खोलेगा धन आगमन के रास्ते, पितृ प्रसन्न होंगे दूर होगी हर बाधा

अयोध्या के ज्योतिषी पंडित कल्कि राम बताते हैं प्रत्येक वर्ष चैत्र माह की पूर्णिमा तिथि को हनुमान जयंतीका पर्व मनाया जाता है और इस वर्ष 23 अप्रैल दिन मंगलवार को मनाया जाएगा। इस दिन प्रात काल 8.02 से लेकर 12.24 तक पूजा का शुभ मुहूर्त रहेगा तो शाम के समय 5.30 से 7.24 तक पवन पुत्र हनुमान की पूजा आराधना करना शुभ माना जाएगा। हनुमान जयंती के दिन कुछ खास उपाय करने से पवन पुत्र बजरंगबली का आशीर्वाद प्राप्त होता है। साथ ही तमाम प्रकार की समस्याओं से मुक्ति भी मिलती है।

हनुमान जयंती के उपाय

  • हनुमान जयंती के दिन हनुमान जी की पूजा आराधना करने से शनि दोष, साढ़ेसाती, अशुभ प्रभाव से मुक्ति मिलती है। हनुमान जन्मोत्सव के दिन सरसों के तेल के दीपक में काला तिल डालकर हनुमान जी के सामने जलाना चाहिए। इस दिन ऐसा करने से शनि पीड़ा से मुक्ति मिलती है. साथ ही पवन पुत्र बजरंगबली का आशीर्वाद प्राप्त होता है।
  • अगर आप कर्ज और कोर्ट-कचहरी के मामलों से परेशान हैं तो हनुमान जयंती के दिन पवन पुत्र हनुमान को तुलसी की माला, लाल चोला, लड्डू अर्पित करना चाहिए, साथ ही चमेली के तेल का दीपक जलाना चाहिए। इस दिन 7 बार हनुमान चालीसा का पाठ करना चाहिए। मान्यता है कि ऐसा करने से कोर्ट-कचहरी और कर्ज आदि से जुड़े समस्याओं से छुटकारा मिलता है।
  • अगर आप परिवार में झगड़े की स्थिति का सामना कर रहे हैं, तो ऐसे में सिंदूर में थोड़ा तेल मिला लें। इसके बाद उससे घर के मुख्य दरवाजे पर स्वास्तिक का निशान बनाएं। ज्योतिष शास्त्र की मानें तो इस उपाय को लगातार चालीस दिन तक करें। इस कार्य को करने से घर की नकारात्मक ऊर्जा दूर होती है और खुशहाली आती है।
Ad Ad Ad Ad Ad
Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज़ लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें

हमसे संपर्क करने/विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें - +91 70170 85440