सरकार कर रही खेड़ा सुल्तान नगरी ग्रामीणों के साथ सौतेला व्यवहार : अर्जुन बिष्ट

Ad
खबर शेयर करें

मालिकाना हक को लेकर बुधपार्क में चल रहा तीन दिवसीय धरना दूसरे भी जारी रहा

समाचार सच, हल्द्वानी। मालिकाना हक को लेकर डॉ0 भीमराव अंबेडकर भूमिहीन मजदूर समिति के बैनर तले सुल्तान नगरी के लोगों द्वारा यहां बुधपार्क में तीन दिवसीय धरने के दूसरे दिन शुक्रवार को भी ग्रामीणों ने अपनी मांग को लेकर जमकर सरकार को कोसा और मांग पूरी ना होने पर आंदोलन तेज करने की चेतावनी दी। इस मौके पर पूर्व कैबिनेट मंत्री हरीश दुर्गापाल ने भी यहां धरना स्थल में पहुंच कर समर्थन दिया और उनकी मांग को जायज बताया।
धरना स्थल पर पूर्व क्षेत्र पंचायत सदस्य एवं आंदोलन के संचालक अर्जुन सिंह बिष्ट ने कहा कि क्षेत्र मंे लोग 70 साल से निवास कर रहे हैं, लेकिन उन्हें आज तक जमीन का मालिकाना हक नहीं मिल पाया है। जिस कारण क्षेत्र के लोगों को कई परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। उनका कहना था कि जब सरकार ने दमुवाढूंगा तथा बिन्दुखत्ता को सुविधा दे दी है तो इस क्षेत्रों के लोगों के साथ क्यों सौतेला व्यवहार किया जा रहा है। जिससे यहां के ग्रामीणों में गहरा रोष व्याप्त है। उन्होंने सरकार से ग्रामीणों की जायज मांग को मानते हुए भूमि का मालिकाना हक कब्जेदारों को देने की मांग की है। उन्होंने कहा कि धरने के अंतिम दिन शनिवार 17 जुलाई को एसडीएम के माध्यम से सरकार को ज्ञापन प्रेषित किया जायेगा। अगर सरकार नहीं चेती तो शीघ्र सुल्तान नगरी के सभी लोगों देहरादून में विधानसभा भवन में जाकर धरना प्रदर्शन करेंगे। धरने का नेतृत्व कर रही ग्राम प्रधान लीला बिष्ट ने भी राज्य सरकार से शीघ्र ही ग्रामीणों की मांग पर कोई ठोस कार्यवाही करने की बात कही है।
इस धरने में मुख्य रूप से समिति के संरक्षक मोहन बिष्ट, संयोजक बची सिंह कपकोटी, उपाध्यक्ष चंद्र राम, हंसी देवी, बलवंत सिंह, कुनाल बोरा, मोहन चंद्र, पूरन राम, नंद किशोर, हरीश राम, ललित, तरूण आर्या सहित भारी संख्या में क्षेत्र के पुरूष व महिलायें मौजूद रही।

Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *