पर्यटन नुकसान को रोकने के लिए प्रयासरत है सरकार : सतपाल महाराज

खबर शेयर करें

समाचार सच, देहरादून। बीते वर्ष लंबे चले लॉकडाउन और इस साल कोविड के बढ़ते मामलों के बीच सभी सेक्टरों समेत उत्तराखंड पर्यटन भी प्रभावित हुआ है। कोरोना काल में पर्यटन को बढ़ावा देने व्यापारियों की समस्याओं को सरकार तक पहुंचाने के उदे्दश्य से पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने पर्यटन उद्योग से जुड़े व्यापारियों से उत्तराखंड पर्यटन विकास परिषद देहरादून कार्यालय में वर्चुअल बैठक की। बैठक में पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने व्यापारियों को आश्वासन देते हुए कहा कि कोरोना के चलते पर्यटन को हो रहे नुकसान को रोकने के लिए सरकार प्रयासरत है। श्री महाराज ने कहा कि माननीय मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत के नेतृत्व में हम सब मिलकर कोरोना के विरूद्ध लड़ाई लड़ रहे हैं। जल्द ही इस लड़ाई के सकारात्मक परिणाम सामने आएंगे। कोरोना की इस विकट चुनौती को अवसर में बदल कर हम पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए प्रतिबद्ध है। पर्यटन उद्योग से जुड़े व्यापारियों ने कहा कि पर्यटन गतिविधियां पर ब्रेक लगने से पर्यटन उद्योग को बड़ा नुकसान हुआ है। मुश्किल के इस समय में सरकार की ओर से आर्थिक मदद की जानी चाहिए। जिस पर पर्यटन मंत्री श्री महाराज ने कहा कि इस संबंध में सरकार से बात कर सकारात्मक निर्णय लिए जाएंगे।
वहीं पर्यटन सचिव दिलीप जावलकर ने कहा कि पर्यटन से जुड़े व्यापारियों की हर संभव मदद करने के लिए सरकार और शासन से बात की जाएगी। पर्यटन व्यवसायियों के सुझावों से उत्तराखंड पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए काम किया जाएगा। बैठक में पर्यटन अपर मुख्य कार्यकारी अधिकारी युगल किशोर पंत, अपर निदेशक विवेक चैहान और वर्चुअल रूप से अपर मुख्य कार्यकारी अधिकारी कर्नल अश्विन पुण्डीर एडवेंचर विंग, पर्यटन उपनिदेशक योगेन्द्र कुमार गंगवार, होटल एसोसिएशन के प्रतिनिधि, टूर ऑपरेटर्स एसोसिएशन के प्रतिनिधि, एडवेंचर टूर ऑपरेटर्स एसोसिएशन के प्रतिनिधि समेत प्रदेश के विभिन्न जिला पर्यटन अधिकारी शामिल हुए। इसके अलावा उत्तराखण्ड के अन्य व्यवसायी हितधारों द्वारा भी सुझाव दिये गये, सुझावों पर अमल करते हुए निर्देशित किया गया कि लिखित रूप से भी विभाग को सुझाव भेंजे जायें ताकि शासन स्तर पर सुझावों को अमल पर लाया जा सके।

तीर्थयात्रियों के लिए जरूरी होगी आरटीपीसीआर रिपोर्ट
मई माह से उत्तराखंड में चारधाम यात्रा शुरू होने वाली है। पर्यटन मंत्री श्री सतपाल महाराज ने कहा कि चारधाम यात्रा के लिए आने वाले तीर्थयात्रियों के लिए आरटीपीसीआर रिपोर्ट अनिवार्य होगी। जबकि स्थानीय तीर्थयात्रियों के लिए थर्मल स्क्रीनिंग की व्यवस्था की जाएगी। चारधाम यात्रा शारीरिक दूरी, मास्क और सेनिटाइजेशन पर केंद्रित होंगी। चारधाम यात्रा से जुड़े व्यापारियों के सुझाव को सरकार तक पहुंचाया जाएगा। जिसके बाद सरकार और प्रशासन से मिलने वाली कोरोना गाइडलाइन के तहत ही चारधाम यात्रा आयोजित की जाएगी।
सैटेलाइट फोन से मजबूत होगी सीमांत क्षेत्र की संचार व्यवस्था
प्रदेश के दूरस्थ सीमांत क्षेत्रों में संचार सुविधाओं को सैटेलाइट फोन मजबूत बनाने का काम करेंगे। पर्यटन मंत्री श्री सतपाल महाराज ने कहा कि सीमांत क्षेत्र में ट्रैकिंग कराने वाले जिम्मेदार व्यक्ति को सैटेलाइट फोन उपलब्ध कराने के लिए गृह मंत्रालय से बात कर हर संभव कार्य किए जाएंगे। साथ ही प्रदेश के हर कोने में संचार व्यवस्था को मजबूत बनाने के लिए मुख्यमंत्री श्री तीरथ सिंह रावत को पत्र लिखा जाएगा।

यह भी पढ़ें -   सीएम धामी ने केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया से की भेंट, उत्तराखण्ड में एयर कनेक्टीवीटी को बेहतर मजबूती प्रदान करने का किया अनुरोध

पर्यटन व्यापारियों की सरकार करे आर्थिक मदद
वर्चुअल बैठक में पर्यटन व्यवसायियों ने सरकार से मांग करते हुए कहा कि संकट के इस समय में सरकार की ओर से आर्थिक मदद की जानी चाहिए, जिससे लोगों को राहत मिल सके। उत्तराखंड होटल एसोसिएशन के अध्यक्ष संदीप साहनी ने कहा कि पर्यटन से प्रदेश भर में लाखों लोगों का रोजगार जुड़ा था। कोरोना से प्रभावित हुए पर्यटन से लोगों को भारी आर्थिक नुकसान हुआ है। साथ ही उन्होंने मांग करते हुए कहा कि बिजली के बढ़ते दामों को कम करने और जीएसटी में राहत दी जाए। वहीं, पर्यटन व्यापारी सुधीर पंत ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में बने होम स्टे से जुड़े लोगों को पॉल्यूशन कंट्रोल बोर्ड से एनओसी लेने में समस्या का सामना करना पड़ता है। जबकि रिन्यूवल की प्रक्रिया को आसान किया जाए। टूर एंड ट्रेवल ऑपरेटर अध्यक्ष अभिषेक आहलूवालिया ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा होटल हितधारकों की भांति ट्रेवल एजेंडों को भी टैक्स इत्यादि का लाभ दिया जाए। वहीं पैराग्लाइडिंग एसोसिएशन अध्यक्ष नैनीताल नितिन राणा ने कहा कि नैनीताल, भीमताल आदि जगहों के नौका चालकों के लाइसेंस नवीनीकरण पर भी छूट दी जाए।

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज़ लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें

हमसे संपर्क करने/विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें - +91 70170 85440

Leave a Reply

Your email address will not be published.