स्वास्थ्य विभाग डंडा, 13 अस्पतालों को भेजा नोटिस

Ad
खबर शेयर करें

समाचार सच, देहरादून। प्रदेश में कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर अब कमजोर पड़ गई है। न केवल संक्रमित, बल्कि मौत के मामलों में भी कमी आने लगी है, लेकिन इस बीच कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत को लेकर अस्पतालों ने जिस तरह का घालमेल किया है वह बेहद चौंकाने वाला है।

प्रदेशभर के निजी व सरकारी अस्पताल मरीजों की मौत के आंकड़े छिपाते रहे हैं। इसका खुलासा तब हो रहा है जब अस्पताल यह आंकड़े राज्य कोविड कंट्रोल रूम को भेज रहे हैं। प्रदेश में बैकलाग के तौर पर 218 मौत रिपोर्ट हुई हैं। ताज्जुब ये कि इनमें कुछ मौत जनवरी-फरवरी की भी हैं। जिससे स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी भी भौचक्क हैं। विभाग ने अब संबंधित 13 अस्पताल व जिलों के मुख्य चिकित्साधिकारियों को नोटिस जारी किया है।

यह भी पढ़ें -   कैप्टन के बयानों से लगता है कि वह किसी तरह के दबाव में है: हरीश रावत

कुछ दिन पहले यह बात उभर कर आई थी कि कई अस्पताल संक्रमित मरीजों की मौत के आंकड़े छुपाए जा रहे हैं। इस पर राज्य सरकार ने भी अस्पतालों को निर्देश जारी किए कि कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत से संबंधित सूचना उसी दिन अथवा दूसरे दिन दोपहर 12 बजे तक राज्य कंट्रोल रूप को भेजी जाए। अन्यथा संबंधित अधिकारी व अस्पताल के खिलाफ मुकदमा होगा। लेकिन इसके बाद भी कई अस्पतालों ने मरीजों की मौत के आंकड़े छुपाए हैं। मौत के इन आंकड़ों को अब बैकलॉग के तौर पर कंट्रोल रूम को भेजा जा रहा है।

यह भी पढ़ें -   अलग - अलग स्थानों से अवैध शराब के साथ तीन दबोचे

इधर, गत दिवस प्रदेश में तीन मरीजों की मौत हुई है। अब तक उत्तराखंड में कोरोना संक्रमित 7316 मरीजों की मौत हुई है। कोरोना मृत्यु दर 2.15 फीसद पर पहुंच गई है। मृत्यु दर में उत्तराखंड पंजाब के बाद दूसरे नंबर पर है।

Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *