डायबिटीज को दूर भगाना चाहते हैं तो शुरू कर दीजिये वॉक

Ad
Ad
खबर शेयर करें

समाचार सच, स्वास्थ्य डेस्क। आज की भागती-दौड़ती ज़िंदगी में ऐसे लोगों की तादाद बहुत कम है जो पूरी तरह से फिट हैं। ज्यादातर लोग किसी न किसी बीमारी का शिकार हैं। आजकल मोटापा भी एक गंभीर बीमारी बनती जा रही है।

आज की भागती-दौड़ती ज़िंदगी में ऐसे लोगों की तादाद बहुत कम है जो पूरी तरह से फिट हैं। ज़्यादातर लोग किसी न किसी बीमारी का शिकार हैं। आजकल मोटापा भी एक गंभीर बीमारी बनती जा रही है। बच्चों से लेकर व्यस्क तक सब इसकी चपेट में आ रहे हैं। अगर आप भी मोटापे से परेशान हैं, लेकिन जिम जाने का समय नहीं है तो आज से ही पैदल चलना शुरू कर दीजिए। सिर्फ आधे घंटे की वॉक आपकी ढेर सारी परेशानियां कम कर देगी।

यह भी पढ़ें -   सूखी खांसी को दूर कर देंगे ये घरेलू नुस्खे

पैदल चलना किसी भी एक्सरसाइज़ से ज़्यादा फायदेमंद होता है और आसान भी है। जब भी मौका मिले थोड़ा पैदल चल लें। खैर ये तो हुई कभी-कभार की बात, लेकिन आप यदि खुद को हमेशा फिट और हेल्दी रखना चाहते हैं तो रोज़ाना आधे घंटे वॉक की आदत डाल लीजिए। सुबह-शाम आपको जब भी समय मिले आधे घंटे पैदल ज़रूर चलें। इससे आपको मोटापे के साथ ही कई अन्य बीमारियों से भी राहत मिलेगी। चलिए, आपको बताते हैं पैदल चलने के ज़बर्दस्त फायदे।

-पैदल चलने से आपका तनाव कम होता है। जी हां, एक अध्ययन के मुताबिक पैदल चलने से एंडोर्फिन हॉर्माेन का स्तर बढ़ता है जो तनाव घटाने में मददगार है। इससे मस्तिष्क की सेहत ठीक रहती है और अल्ज़ाइमर और डिमेंशिया जैसी बीमारियों का खतरा भी कम हो जाता है।

यह भी पढ़ें -   सूखी खांसी को दूर कर देंगे ये घरेलू नुस्खे

-कई शोध से यह बात भी सामने आई है कि चलने से दिल की बीमारियों का खतरा कम हो जाता है। दरअसल, दौड़ने की तरह ही रोज़ाना चलने से ब्लड सर्कुलेशन और हार्ट रेट ठीक रहता है जिससे दिल की सेहत दुरुस्त बनी रहती है।

-यदि आपको डायबिटीज़ है तो आज से ही पैदल चलने को अपना रूटीन बना लीजिए। शोध के मुताबिक, जो लोग रोज़ाना पैदल चलते हैं उनके शरीर में ग्लूकोज की मात्रा, दौड़ने वालों की तुलना में 6 गुना ज्यादा होता है, इससे डायबिटीज़ का खतरा कम होता है।

-अगर आप वाकई में वज़न घटाना चाहते हैं तो रोज़ाना कम से कम 10 हजार कदम चलना होगा। इससे शरीर की अतिरिक्त चर्बी घटेगी और आपका शरीर शेप में रहेगा। चलने से शरीर के मसल्स भी टोन्ड रहते हैं और सबसे बड़ी बात की वॉकिंग जिम में पसीना बहाने जितनी मुश्किल नहीं है।

यह भी पढ़ें -   सूखी खांसी को दूर कर देंगे ये घरेलू नुस्खे

इसे भी पढ़ेंः खाने में अवश्य शामिल करें हरी मिर्च, मिलेंगे यह जबरदस्त लाभ

-यदि आप रोजाना 30 मिनट की वॉक करते हैं तो आपको जल्द ही हड्डियों और जोड़ों के दर्द से राहत मिलेगी। चलने से हड्डियां लचीली और मज़बूत बनती हैं।

-लगातार बैठकर काम करने से कई बार कमर दर्द की शिकायत हो सकती है, ऐसे में रोज़ाना कम से कम आधे घंटे पैदल चलना बहुत ज़रूरी है। इससे कमर का दर्द को ठीक होता ही आपकी बॉडी भी फिट रहती है और वॉक करने से दिमाग भी तरोताज़ा महसूस करता है।

Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *