नैनीताल पर्यटन सीजन को देखते हुए डीआईजी ने ली अधिकारियों की बैठक, दिये आवश्यक दिशा-निर्देश

खबर शेयर करें

समाचार सच, नैनीताल। आगामी पर्यटन सीजन को देखते हुए डीआईजी नीलेश आनन्द भरने ने तल्लीताल पुलिस लाइन में ज़िलें के सभी पुलिस अधिकारियों क्षेत्राधिकारी पुलिसकर्मियों, होटल व्यवसायियों, टैक्सी यूनियन, नाव चालक व पर्यटन से जुड़े अन्य लोगों के साथ बैठक कर आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए।

बुधवार को बैठक कर डीआईजी नीलेश आंनद भरने ने कहा कि बीते दो वर्ष से कोविड के बाद अब स्थिति पटरी पर लौटी है वही पर्यटन सीजन भी इस बार काफी अच्छा होने की संभावना है। जिसके लिए पुलिस कर्मियों को चार दिवसीय प्रशिक्षण दिया गया है। इसके साथ ही पर्यटन व्यवस्थाएं सुचारू रूप से चलाने के लिए अतिरिक्त पुलिस फोर्स भी मंगाई गई है साथ ही जिलाधिकारी से होमगार्ड व पीआरडी की भी तैनाती करने की मांग की है, साथ ही अतिरिक्त वॉकी टॉकी का प्रयोग कर बेहतर यातायात व्यवस्था बनाये जाने के निर्देश दिए। वही डीआईजी ने पुलिस अधिकारियों, क्षेत्राधिकारी व पुलिसकर्मियों ने निर्देशित करते हुए कहा कि पर्यटन सीजन के दौरान यातायात व्यवस्थाएं इस कदर चाक चौबंद की जाए कि पर्यटन से जुड़े कारोबारियों को किसी प्रकार की कोई परेशानी न हो साथ ही स्थानीय लोगों को भी जाम से परेशान न होना पड़े।

यह भी पढ़ें -   हिन्दू धार्मिक कायों में आम के पत्ते, फल आदि का महत्व

वही निर्देश दिए कि सीजन के दौरान डीएसए पार्किंग में केवल पर्यटकों के वाहन ही पार्क किए जाएंगे और स्थानीय लोग अपने वाहन सूखाताल पार्किंग में पार्क करेंगे। डीआईजी ने बताया कि इस वर्ष पर्यटकों की संख्या अधिक होने के चलते शटल सेवा रूसी बाईपास के साथ ही नारायण नगर व पाइंस से भी शुरू की जाएगी। वही प्रत्येक पर्यटन बूथ में पर्यटकों को नैनीताल अंदर सभी पर्यटन स्थलो की जानकरी देने के किए पम्फेल्ट रखें जाए साथ ही सुझाव पत्रिका भी रखी जाए जिसमे पर्यटक अपने सुझाव दे सकें।

उन्होंने कहा कि जिस पर्यटन बूथ का फीडबैक सबसे अच्छा होगा उस पुलिसकर्मी को सम्मानित भी किया जाएगा। वही कहा कि सीजन के दौरान होटल व्यवसायी व टैक्सी यूनियन के बीच समन्वय स्थापित करने के लिए ब्रॉडकास्ट व व्हाट्सएप ग्रुप बनाए जाने के निर्देश दिए। वहीं डीआईजी ने कहा कि जिस तरह से नैनीताल में पर्यटकों के लिए पार्किंग की समस्या दूर करने के लिए क्यूआर कोड स्कैनर लगाया गया है उसी तरह से ज्योलीकोट में भी क्यूआर कोड स्कैनर लगाया जाएगा। उत्तरांचल रेस्टोरेंट के संचालक ने यातायात पुलिस को दिए बैरियर खुर्पाताल स्थित उत्तरांचल रेस्टोरेंट के संचालक अर्नव नेगी द्वारा शहर में यातायात व्यवस्था सुव्यवस्थित बनाए रखने के लिए कुंमाऊनी भाषा मे लिखे गए 15 बैरियर दिए गए है।

यह भी पढ़ें -   विभिन्न राजनीतिक दलों द्वारा आयोजित सम्मेलन में राज्य में बढ़ती साम्प्रदायिक तनाव की घटनाओं पर जताई चिन्ता

इस दौरान वैध साह, दिग्विजय सिंह बिष्ट, नीरज जोशी, भवाली क्षेत्र पुलिस अधीक्षक प्रमोद साह, तहसीलदार नवाजिश खलीक, आदेश कुमार यातायात निरीक्षक, धर्मेंद्र शोलंकी, एसओ तल्लीताल रोहितांश सागर, सोनू सिंह, नरेश कुमार आदि विभिन्न पर्यटन से जुड़े व्यवसाय मौजूद थे।

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज़ लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें

हमसे संपर्क करने/विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें - +91 70170 85440

Leave a Reply

Your email address will not be published.