जम्मू-कश्मीर: अमरनाथ गुफा के पास फटा बादल, 10 श्रद्धालुओं की मौत

खबर शेयर करें

समाचार सच, नई दिल्ली (एजेन्सी)। शुक्रवार की शाम पांच बजकर 30 मिनट पर जम्मू-कश्मीर में अमरनाथ गुफा के पास बादल फटने की घटना में कई लोगों के मरने की सूचना आ रही है। एनडीआरएफ के मुताबिक, 10 लोगों की मौत हुई है। गुफा के पास बादल फटने से सैलाब में कुछ टेंट बह गए। सूचना पर पहुंची एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की टीमें मौके पर राहत व बचाव कार्य में जुटी गयी हैं। आईटीबीपी की टीम भी राहत व बचाव कार्य में जुटी हुई है।

आईजीपी कश्मीर विजय कुमार ने बताया था कि बादल फटने के बाद कुछ लंगर और तंबू सैलाब की चपेट में आ गए हैं, दो लोगों की मौत की सूचना है। पुलिस, एनडीआरएफ और एसएफ द्वारा बचाव अभियान जारी है। उन्होंने कहा था कि घायलों को इलाज के लिए एयरलिफ्ट किया जा रहा है। वहीं आईटीबीपी के पीआरओ विवेक कुमार ने बताया कि काफी लोगों को वहां से निकाला गया है, कई लोगों को बचाया भी गया है। अभी स्थिति को देखते हुए यात्रा रोकने का निर्णय लिया गया है।

यह भी पढ़ें -   हल्द्वानी में होने वाली युवाजन आक्रोश रैली को नहीं मिली अनुमति

अमरनाथ गुफा के निचले इलाकों में बचाव अभियान जारी है। घायलों को बचाने के लिए हेलिकॉप्टर रवाना किया गया है। लापता लोगों की तलाश में बचाव दल जुटे हुए हैं। एनडीआरएफ के डीजी अतुल करवाल ने कहा कि हमारी 1 टीम गुफा के पास तैनात रहती है, वो टीम तत्काल बचाव कार्य में जुट गई थी। 2 टीम पास में हैं जिसमें से 1 वहां पहुंच कर काम पर लग गई है,1 टीम शामिल होने वाली है। वहां मौजूद हमारे लोगों के मुताबिक 10 लोगों के मौत की खबर है और 3 को वहां से जीवित निकाला गया है।

इधर गृह मंत्री अमित शाह ने अमरनाथ गुफा के पास बादल फटने की घटना पर ट्वीट किया है कि -बाबा अमरनाथ की गुफा के पास बादल फटने से आयी फ्लैश फ्लड के संबंध में मैंने उपराज्यपाल मनोज सिन्हा से बात कर स्थिति की जानकारी ली है। एनडीआरएफ, सीआरपीएफ, बीएसएफ और स्थानीय प्रशासन बचाव कार्य में लगे हैं। लोगों की जान बचाना हमारी प्राथमिकता है। सभी श्रद्धालुओं की कुशलता की कामना करता हूं।

यह भी पढ़ें -   कच्ची शराब के साथ युवक को पुलिस ने किया गिरफ्तार

इधर मौसम पूर्वानुमान के अनुसार, पहलगाम, चंदनवाड़ी, जोजी ला, शेषनाग, पोशपत्री, पंचतरनी और संगम जैसे क्षेत्रों में आज बारिश होने की संभावना है। आपको बता दें कि अमरनाथ यात्रा मंगलवार को भी खराब मौसम के कारण अस्थायी रूप से स्थगित कर दी गई थी। कड़ी सुरक्षा के बीच, वार्षिक 43-दिवसीय अमरनाथ यात्रा 30 जून को शुरू हुई थी।

Ad - Harish Pandey
Ad - Swami Nayandas
Ad - Khajaan Chandra
Ad - Deepak Balutia
Ad - Jaanki Tripathi
Ad - Asha Shukla
Ad - Parvati Kirola
Ad - Arjun-Leela Bisht

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज़ लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें

हमसे संपर्क करने/विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें - +91 70170 85440

Leave a Reply

Your email address will not be published.