पत्रकार सुरक्षा कानून पर होगा गंभीरता से विचार: सीएम पुष्कर सिंह धामी

खबर शेयर करें

एनयूजे आई के प्रान्तीय अधिवेशन में मुख्यमंत्री ने किया प्रतिभाग

समाचार सच, पन्तनगर। प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने डॉ.रतन सिंह ऑडिटोरियम पहुॅचकर नेशनल यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट (इण्डिया) प्रान्तीय अधिवेशन में प्रतिभाग किया। मुख्यमंत्री श्री धामी ने कार्यक्रम की शुरूआत दीप जलाकर की। नेशनल यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट (इण्डिया) की 11 सूत्रीय मांग पर श्री धामी ने कहा कि राज्य में पत्रकार सुरक्षा कानून हेतु गंभीरता से विचार करेंगे और जो भी बेहतर होगा, वह कार्य किया जायेगा, इसके साथ ही इसके साथ ही मांगों गहनता से परीक्षण कराते हुए जो भी पत्रकारों के हित में बेहतर होगा, वह कार्य अवश्य किया जायेगा।

श्री धामी ने अपने सम्बोधन में कहा कि लोकतंत्र के चौथे स्तम्भ को नमन करता हूॅ। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र के चारों स्तम्भ-न्याय पालिका, कार्य पालिका, विधायिका व प्रेस के मध्यम जनहित में आपसी समन्वय होना चाहिए और कोई भी पक्ष कमजोर नहीं होना चाहिए। उन्होंने कहा कि पत्रकारिता पारदर्शी व आम आदमी से जुड़ी होनी चाहिए। मुख्यमंत्री धामी ने कहा कि पहले की पत्रकारिता काफी कठिन होती थी और आज भी पत्रकारिता मैं बहुत सारी चुनौतियां हैं । उन्होंने कहा कि आज डिजिटल का दौर है, लेकिन ऐसे में भी पत्रकारिता में आज भी एक सुनहरा भविष्य छिपा है। उन्होंने पत्रकारों से अपील की है कि वह निष्पक्ष पत्रकारिता करें और लोकतंत्र के इस चौथे स्तंभ की मर्यादा को बरकरार बनाए रखें। उन्होंने कहा कि देश के संविधान की विशेषता है कि निचले स्तर से उठकर एक व्यक्ति देश को प्रगति के पथ पर आगे बढ़ा रहा है और अन्तराष्ट्रीय स्तर पर देश की ख्याति बढ़ा रहा है। मुख्यमंत्री श्री धामी ने कहा कि जबकि वे भी सैनिक परिवार से होने के बावजूद प्रदेश की कमान संभाल रहे हैं।

यह भी पढ़ें -   पैरोल पर चल रहा अभियुक्त फरार, महाराष्ट्र की सेंट्रल जेल में काट रहा है आजीवन कारावास की सजा

श्री धामी ने कहा कि संभवतः पहली बार आम आदमी का बजट भी आम आदमी की राय से तैयार करने का कार्य किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि पत्रकार समाज के बुद्धीजीवी वर्ग में से है, बजट तैयार करने में पत्रकार बन्धु भी अपनी-अपनी राय अवश्य दें। उन्होंने कहा कि आम आदमी के बजट हेतु जैसे-जैसे जनता जागरूक होगी, वैसे-वैसे जनता के सुझाव भी अवश्य प्राप्त होंगे। उन्होंने कहा कि आने वाले समय में बजट निर्माण में निश्चित ही जनता की सहभागिता बढ़ेगी।

श्री धामी ने कहा कि दुनिया में एक से एक खूबसूरत स्थान हैं, परन्तु देवो की भूमि एवं धर्म, संस्कृति व अध्यात्म के संगम उत्तराखण्ड जैसा कोई स्थान नहीं है। उन्होंने कहा कि राज्य में पर्यटन कारोबार से जुड़े छोटे-बड़े व्यवसायियों को पिछले दो वर्षों में काफी कठिनाईयों का सामना करना पड़ा है। श्री धामी ने कहा कि उनके द्वारा चारधाम यात्रा पर पैनी नज़र रखी जा रही है तथा यात्रा के सफल संचालन हेतु सभी कार्य किये गये हैं और सुरक्षात्मक दृष्टि से भी गाइड लाइन जारी करने के साथ ही सभी आवश्यक व्यवस्थाऐं की गयी है।
श्री धामी ने कहा कि सभी की यात्रा सरल, सुगम व सुरक्षित हो, इसके लिए युवा यात्री बजुर्गों को दर्शन करने में प्राथमिकता दे तथा यात्रा पर आने वाले श्रद्धालु डॉक्टर से परामर्श लें। उन्होंने अपील करते हुए कहा कि जो भी व्यक्ति स्वस्थ न हों, ये स्वस्थ होने तक यात्रा पर न आये। श्री धामी ने कहा कि पहले दिन केदारनाथ धाम यात्रा पर अपेक्षा से कई अधिक श्रद्धालु यात्रा पर पहुॅने के कारण रात्रि में ही सभी व्यक्तियों के लिए ऐंसी व्यवस्था की गई की किसी भी श्रद्धालु को खुले आसमान के नीचे रहना व सोना न पड़े। श्री धामी ने राज्य में चल रहे विकास कार्यों, समान नागरिक संहित आदि के बारे में विस्तार से जानकारी देते हुए उत्तराखण्ड की देवतुल्य जनता की ओर से सभी देशवासियों से अपील की कि सभी राज्यों में एक समान नागरिक संहिता लागू हो।

यह भी पढ़ें -   मेयर रौतेला ने राजपुरा में किया श्वान पशु बधियाकरण केंद्र का उद्घाटन

कार्यक्रम को प्रदेश के वित्त मंत्री प्रेमचंद अग्रवाल ने संबोधित करते हुए कहा कि राजनीति में पत्रकारिता और राजनीति का चोली दामन का साथ है दोनों के तालमेल से ही सियासत चलती है। उन्होंने कहा कि पत्रकारिता एक बड़ी चुनौतीपूर्ण जिम्मेदारी है इसलिए स्वच्छ पत्रकारिता करनी चाहिए। उन्होंने कहां कि आज अगर विकास की कहीं भी बात आती है चाहे वह देश हो या किसी प्रदेश की उसमें विकास की मुख्यधारा पर पत्रकारिता का भी एक बहुत बड़ा योगदान है। उन्होंने बजट, सर्विस चार्ज सहित विभिन्न विभिन्न पहलुओं पर विस्तार से जानकारी दी। एनयूजेआई के राष्ट्रीय अध्यक्ष रास बिहारी, पीसीआई के सदस्य प्रसन्ना मोहन्ती, प्राफेसर गिरीश रंजन तिवारी, प्रान्तीय अध्यक्ष कैलाश जोशी ने पत्रकारिता के इतिहास, वर्तमान एवं भविष्य, चुनौतियों आदि के बारे में विस्तार से जानकारी दी।

कार्यक्रम में कुमाऊॅ की तर्ज पर ही गढ़वाल मण्डल कार्यकारिणी की घोषणा करते हुए गढ़वाल मण्डल कार्यकारिणी में धर्मेन्द चौधरी को गढ़वाल मण्डल अध्यक्ष तथा निशान्त चौधरी को महासचिव बनाया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता एनयूजे के राष्ट्रीय अध्यक्ष रास बिहारी ने की।
कार्यक्रम में विधायक मोहन सिंह बिष्ट, तिलकराज बेहड़, सुमित हृदयेश, पूर्व विधायक राजेश शुक्ला, ब्लाक प्रमुख रूपा देवी, भाजपा नेता मनोज पाठक, जिलाधिकारी युगल किशोर पन्त, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक मंजुनाथ टीसी, एनयूजे के वरिष्ठ उपाध्यक्ष संजय तलवार, महामंत्री सुशील कुमार त्यागी, कोषाध्यक्ष विकास झा, मण्डल अध्यक्ष दिनेश जोशी, मनोज लोहनी, एम हसनेन, डॉ0 नवीन जोशी, अजय अनेजा, प्रमोद बमेठा, रिम्पी बिष्ट सहित सितारगंज, कालाढूंगी, रामनगर, काशीपुर, बाजपुर, रुद्रपुर के सदस्य उपस्थित थे।

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज़ लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें

हमसे संपर्क करने/विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें - +91 70170 85440

Leave a Reply

Your email address will not be published.