मर गई ममता! पिता ने साढ़े तीन वर्षीय बीमार बेटे से तंग आकर उसे नहर में डुबोकर मारा, यूं पकड़ा गया आरोपी

खबर शेयर करें

समाचार सच, किच्छा। उत्तराखण्ड के उधमसिंह नगर जिले में हैवानियत का एक ऐसा मामला सामने आया है जिसके बारे में जानकर पुलिस भी दंग रह गई। यहां एक पिता ने अपने साढ़े तीन वर्षीय बेटे की बीमारी से तंग आकर उसे नहर में डुबोकर मार डाला है। पिता ने पुलिस को गुमराह करने के लिये पुलिस में उसकी गुमशुदगी दर्ज करवायी थी। इस मामले में पुलिस ने ढकिया से बच्चे का शव बरामद कर पिता को हिरासत में ले लिया है।

जानकारी के अनुसार उधमसिंह नगर जिले के किच्छा में सिरोली कलां निकट रजा मस्जिद वार्ड नंबर 19 निवासी तारिक पुत्र मो. जाकिर का साढ़े तीन वर्ष पुत्र शाबान हीमोफीलिया बीमारी से ग्रसित था। तारिक ने अपने बेटे शाबान की बीमारी से तंग आकर उसकी हत्या करने की ठान ली। तारिक मंगलवार की सुबह घर से शाबान को बाइक पर लेकर निकला और अपने पैतृक गांव ढकिया थाना बहेड़ी जनपद बरेली उत्तर प्रदेश में ले गया। जहां तारिक ने उसे नहर में डूबो कर हत्या कर शव नहर में ही फेंक दिया। इधर जब बहुत देर से शाबान के घर वापस नहीं आने पर उसकी मां आयशा बी परेशान हो गयी। काफी खोज बीन करने के बाद आयशा बी ने अपने पति तारिक से फोन पर पूछा तो उसने बताया कि वह बहेड़ी में है।

यह भी पढ़ें -   कांग्रेस प्रदेश प्रवक्ता दीपक ने कहा- कार्बेट फाल पर सुरक्षा कर्मी ना होने से गई छात्रों की जान

परिजनों ने काफी खोजबीन के बाद पुलिस में शाबान की गुमशुदगी दर्ज कर अपनी कार्रवाई शुरू की। तारिक से पूछताछ के दौरान शक होने पर बुधवार की सुबह पुलिस ने वहां लगे कैमरे खंगालने शुरू किये। एक होटल में लगे सीसीटीवी में तारिक शाबान को बाइक में ले जाते हुए दिख गया। पुलिस ने उसे हिरासत में लेकर फिर से पूछताछ शुरू की। लेकिन बार-बार तारिक अपने बयान को बदलने लगा रहा। पुलिस की कड़ी कार्रवाई के बाद तारिक टूट गया और सारी बातें खोल दी।

यह भी पढ़ें -   योजनाओं के आमेलन में आ रही कमी को पूरा करने हेतु बनायी जायेगी कार्य योजना: संजय नेगी

इधर बुधवार को दिन में ढकिया नहर किनारे बच्चे लकड़ी बीनने गए तो वहां बच्चे का शव देख कर वह चौंक गये। बच्चों ने इसकी जानकारी पूर्व प्रधान अनवार मलिक को दी। उधर ढकिया में भी बच्चे के सिरोली से गायब होने की बात पहुंच फैल चुकी थी। सूचना पर मिलने पर अनवार ने सिरोली निवासी अदील मलिक को मोबाइल पर फोटो भेजा तो शव शाबान के होने की पुष्टि हो गई। सूचना मिलने पर एसपी सिटी ममता वोहरा, सीओ ओपी शर्मा, पुलभट्टा एसओ राजेश पांडेय भी फोर्स के साथ घटना स्थल पर पहुंच गए और शव को अपने कब्जे में ले लिया। पुलिस ने इस मामले में आरोपी तारिक को गिरफ्तार कर लिया हैं। इधर सूचना मिलने पर मृतक शाबान की मां का रो-रो के बुरा हाल है।

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज़ लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें

हमसे संपर्क करने/विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें - +91 70170 85440

Leave a Reply

Your email address will not be published.