स्वतंत्र व निष्पक्ष निर्वाचन प्रक्रिया में मीडिया की अहम भूमिका : सीईओ सौजन्या

Ad - Harish Pandey
Ad - Swami Nayandas
Ad - Khajaan Chandra
Ad - Deepak Balutia
Ad - Jaanki Tripathi
Ad - Asha Shukla
Ad - Parvati Kirola
Ad - Arjun-Leela Bisht
खबर शेयर करें

-चिन्हित दिव्यांगजन और 80 वर्ष से अधिक आयु के मतदाताओं के लिए पोस्टल बैलट की व्यवस्था
-आगामी विधानसभा चुनावों में कोरोना गाईडलाइन के पालन की पूरी तैयारी
-मीडिया कार्यशाला में पेड न्यूज, एम.सी.एम.सी, विज्ञापन प्रमाणन आदि विषयों पर मीडिया को दी गई जानकारी

समाचार सच, देहरादून। देहरादून के एक स्थानीय होटल में कार्यालय मुख्य निर्वाचन अधिकारी, उत्तराखण्ड एवं सूचना विभाग के संयुक्त तत्वाधान में एक दिवसीय मीडिया कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यशाला का शुभारम्भ मुख्य अतिथि मुख्य निर्वाचन अधिकारी श्रीमती सौजन्या, महानिदेशक सूचना रणबीर सिंह चौहान एवं मुख्य वक्ता प्रो.डॉ. सुभाष गुप्ता द्वारा दीप प्रज्ज्वलित कर किया गया है।

मुख्य निर्वाचन अधिकारी श्रीमती सौजन्या ने कहा कि मीडिया कार्यशाला का आयोजन आगामी निर्वाचन की दृष्टि से महत्वपूर्ण है। उन्होंने बताया कि मतदाता संक्षिप्त पुनरीक्षण-2022 सम्पन्न हो चुका है। शीघ्र ही निर्वाचन आयोग इलैक्टरोल का प्रकाशन करेगा। इस बार 3 लाख 99 हजार से अधिक नवीन पंजीकरण हमें प्राप्त हुए है। इस बार निर्वाचन आयोग द्वारा नई पहल की जा रही है, जिसके अन्तर्गत 80 वर्ष अधिक आयु के वरिष्ठ नागरिकों एवं निर्वाचक नामावली में चिन्हित दिव्यांगजनों को पोस्टल बैलट के माध्यम से मतदान की सुविधा प्रदान की जायेगी। उन्हांने कहा कि कोरोना प्रोटोकॉल की गाइड लाइन का पालन प्रत्येक स्तर पर कराये जाने की भी पूरी तैयारी कर ली गई है। कोरोना के विरूद्ध हथियार मास्क, सैनेटाइजर, हैण्ड ग्लब्स तथा दिव्यांगजनों के लिए व्हील चेयर, रैम्प, दृष्टिबाधितों के लिए ब्रेल लिपि प्रति भी बूथ पर उपलब्ध रहेगी। इस बार पहाड़ों में निःशक्तजनों तथा गर्भवती महिलाओं को बूथ तक लाने के लिए डोली का प्रयोग भी किया जायेगा। उन्होंने संपूर्ण निर्वाचन प्रक्रिया में मीडिया को अपने सहयोगी की भूमिका में मिलकर काम करने की भी अपील की।

यह भी पढ़ें -   आज दिनांक १५ अगस्त का पंचांग

महानिदेशक सूचना श्री रणवीर सिंह चौहान ने कहा कि विधान सभा सामान्य निर्वाचन के सफल संपादन में मीडिया की भूमिका बढ़ जाती है। उन्होंने कहा कि चुनाव में मीडिया तक सूचनाओं का सही प्रकार से आदान-प्रदान हो, इसके लिए तंत्र विकसित किया जायेगा, ताकि मीडिया को किसी एक प्लेटफार्म से समय पर सूचनाएं मिल सके।

कार्यशाला में ग्राफिक एरा विश्वविद्यालय के मॉस कॉम विभाग के प्रोफेसर डॉ. सुभाष गुप्ता द्वारा पेड न्यूज पर प्रस्तुतीकरण दिया। डॉ. गुप्ता ने पेड न्यूज के दुष्प्रभावों पर प्रकाश डालते हुए बताया कि इस प्रकार के गलत तथ्यों पर आधारित प्रचार से एक सही, ईमानदार लोकतंत्र के लिए आवश्यक उम्मीदवार, धन का प्रलोभन देने वाले उम्मीदवार से पिछड़ सकता है।

यह भी पढ़ें -   राज्यपाल ने ध्वजारोहण कर किया स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों एवं शहीद जवानों को नमन

नोडल अधिकारी मीडिया निर्वाचन नितिन उपाध्याय द्वारा मीडिया मॉनिटरिंग, प्रमाणीकरण एवं कमेटी के कार्यों से संबंधित प्रस्तुतीकरण दिया। श्री उपाध्याय ने निर्वाचन के समय मीडिया के लिए जारी होने वाली गाइडलाइन एवं विज्ञापनों के प्रसारण से संबंधित जानकारी दी। मीडिया को चुनाव के समय चुनाव आयोग द्वारा दी जाने वाली सुविधाओं की भी जानकारी दी। श्री उपाध्याय ने मीडिया से भी चुनाव प्रक्रिया में मीडिया से सुझाव भी आमंत्रित किये।

कार्यशाला में वरिष्ठ पत्रकार संजीव कंडवाल, विकास गुसाँई, गजेंद्र नेगी, विक्रम श्रीवास्तव ने अपने सुझाव दिए।

इस अवसर पर उप निदेशक सूचना रवि विजारनिया, सहायक निदेशक अर्चना, मुख्य निर्वाचन अधिकारी कार्यालय में मीडिया कॉर्डिनेटर राखी, आकाशवाणी/दूरदर्शन समाचार प्रभारी राघवेश पाण्डेय सहित अन्य वरिष्ठ मीडिया प्रतिनिधिगण उपस्थित थे।

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज़ लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें

हमसे संपर्क करने/विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें - +91 70170 85440

Leave a Reply

Your email address will not be published.