2 माह चलेगा भिक्षा नहीं शिक्षा दो ऑपरेशन मुक्ति अभियान, एसपी सिटी हल्द्वानी ने दिये गठित पुलिस टीम को आवश्यक दिशा-निर्देश

Ad - Harish Pandey
Ad - Swami Nayandas
Ad - Khajaan Chandra
Ad - Deepak Balutia
Ad - Jaanki Tripathi
Ad - Asha Shukla
Ad - Parvati Kirola
Ad - Arjun-Leela Bisht
खबर शेयर करें

समाचार सच, हल्द्वानी। हल्द्वानी महानगर में भिक्षा नहीं शिक्षा दो ऑपरेशन मुक्ति अभियान 2 माह तक चलाया जायेगा। सोमवार को यहां बहुद्देशीय भवन में आयोजित कार्यशाला में एसपी सिटी ने दिये गठित पुलिस टीम को आवश्यक दिशा-निर्देश दिये। आपको बता दें कि बच्चों द्वारा की जा रही भिक्षावृति की रोकथाम हेतु पुलिस मुख्यालय उत्तराखण्ड के निर्देशानुसार आगामी 01 अगस्त से पूरे प्रदेशभर में उत्तराखण्ड पुलिस द्वारा 02 माह तक ऑपरेशन मुक्ति अभियान चलाया जायेगा, जिसकी थीम “भिक्षा नहीं, शिक्षा दें” है। अभियान के तहत भिक्षावृति में लिप्त बच्चों की काउंसलिंग कर उनको शिक्षा के लिए प्रेरित कर शिक्षा दिलाना है।

ऑपरेशन मुक्ति अभियान को महानगर हल्द्वानी में सफल बनाए जाने हेतु एसपी सिटी हरबंश सिंह के निर्देशन में सोमवार को यहां बहुद्देशीय भवन के सभागार में आयोजित कार्यशाला आयोजित की गयी। इस मौके पर एसपी सिटी ने आपसी समन्वय व तालमेल बनाकर ऑपरेशन मुक्ति अभियान को सफल बनाने के निर्देश दिये गये। भिक्षावृति में संलिप्त बच्चों की अधिक से अधिक काउंसलिंग कर उनकों शिक्षा के लिए प्रेरित करने हेतु बताया गया। उन्होंने बताया कि इस ऑपरेशन का उद्देश्य भीख मांगने वाले छोटे-छोटे बच्चों की भिक्षा वृत्ति छुड़ाकर उन्हें शिक्षा देने के लिए स्कूल भेजना है। इस अभियान की सफलता के लिये स्थानीय पुलिस सामाजिक संस्थाओं का सहयोग भी लेगी। ऑपरेशन मुक्ति के पहले चरण में बच्चों के सत्यापन के कार्य के साथ उन्हें व उनके माता पिता को शिक्षा प्रदान करने के लिए परामर्श व मार्गदर्शन दिया जाएगा।

यह भी पढ़ें -   राज्यपाल ने दी ‘श्रीकृष्ण जन्माष्टमी’ की बधाई

एस0पी0 सिटी ने टीम के समस्त सदस्यों को निर्देशित किया कि वे बच्चों से सम्बन्धित प्रचलित समस्त कानूनी एवं विधिक प्राविधानों की पूर्ण जानकारी अवश्य दी जाय तथा बच्चों से पूछताछ करते समय मा0 उच्च न्यायालय, मानवाधिकार आयोग, राष्ट्रीय बाल संरक्षण आयोग एवं गृह मंत्रालय भारत सरकार के निर्देशों का पालन करना सुनिश्चित करेंगे। साथ ही भिक्षावृत्ति की रोकथाम हेतु नगर निगम के कूड़ा वाहनों में “भिक्षा नहीं शिक्षा दे” स्लोगन जैसे अन्य वीडियो क्लिप तैयार कर प्रचार-प्रसार किये जाने के दिशा निर्देश दिये गये।

यह भी पढ़ें -   ईयरफोन लगाकर रेलवे ट्रैक पर टहल रहा था युवक, ट्रेन की चपेट में आने से मौत

कार्यशाला में पुलिस विभाग से महिला निरीक्षक ललिता पाण्डे, उ0नि0 भुवन चन्द्र राणा, सी.डब्लयू सी. आर0पी0पन्त, विनोद कुमार टम्टा, स्वास्थ्य विभाग हल्द्वानी से डॉ0 राहुल लसपाल, बाल श्रम विभाग से श्रीमती मीनाक्षी, डीपीओ श्रीमती व्योमा जैन, भीमताल सीडीपीओ डॉ0 रेनू मर्ताेलिया, जेजेबी सदस्य शाहिन जाफरा, डीपीओ मुकुल चौधरी, धरोहर बाल आश्रय गृह के रविन्द्र रौतेला, धरोहर संस्था के हरीश चन्द्र जोशी, प्रकाश चन्द्र पाण्डे, वीरंगना संस्था के मोनिकी गिरी, सामाजिक कार्यकर्ता राहुल चन्द्र आर्या, चिल्ड्रन्स विलेज भीमतार एसओएस दीपक सक्सेना सहित आदि गणमान्य लोग मौजूद रहे।

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज़ लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें

हमसे संपर्क करने/विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें - +91 70170 85440

Leave a Reply

Your email address will not be published.