नैनीताल जिले के इस क्षेत्र में पिकप खाई में गिरी, तीन लोगों की दर्दनाक मौत

खबर शेयर करें

समाचार सच, हल्द्वानी। जिले के बेतालघाट-सेठी-रामनगर मोटर मार्ग में एक भीषण हादसा हो गया। अनियंत्रित पिकप के खाई में गिरने से तीन लोगों की दर्दनाक मौत हो गई। मृतकों में दो सगे भाई शामिल बताए जा रहे हैं। पुलिस ने ग्रामीणों की मदद से रेस्क्यू कर शवों को खाई से निकाला और पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। यह घटना देर रात बेतालघाट-सेठी-रामनगर मार्ग के ओखलढूंगा में घटित हुई। बताया जाता है कि कोटाबाग विकासखंड के गोरियादेव गांव में रहने वाले 35 वर्षीय कृपाल सिंह पुत्र बाला दत्त, 35 वर्षीय रमेश कांडपाल, 18 वर्षीय मोहित कांडपाल पुत्र नंदा बल्लभ कांडपाल पिकप वाहन में सवार होकर ओखलढूंगा जा रहे थे। पिकप को चालक कृपाल सिंह चला रहा था। अभी वह ओखलढूंगा गांव के पास पहुंचे ही थे कि तभी अचानक चालक वाहन से नियंत्रण खो बैठा। जिससे वाहन अनियंत्रित हो गया और करीब 100 मीटर गहरी खाई में जा गिरा। दुर्घटना की आवाज इतनी जबर्दस्त थी कि घटनास्थल के पास गांव में घरों में सो रहे लोगों की नींद खुल गई। आनन-फानन में लोग घटनास्थल की तरफ दौड़ पड़े। मौके पर पहुंचे तो देखा कि वाहन दुर्घटनाग्रस्त है। रात्रि के अंधेरे में ग्रामीण किसी तरह खाई में उतरे और वाहन में फंसे लोगों को बाहर निकाला। लेकिन तब तक रमेश व कृपाल दम तोड़ चुके थे। जबकि गंभीर रूप से घायल मोहित को ग्रामीणों ने 108 आपातकालीन सेवा की मदद से बेतालघाट के चिकित्सालय भिजवाया। जहां उसकी हालत गंभीर देख चिकित्सकों ने प्राथमिक उपचार के बाद रामनगर के लिए रैफर कर दिया गया। रामनगर से भी उसे काशीपुर हायर सेंटर भेज दिया गया। बताया जाता है घ्कि काशीपुर में मोहित भी जिंदगी से जंग हार गया। पुलिस ने मृतकों के शवों का पंचनामा भर उन्हें पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। साथ ही पुलिस ने घटनास्थल का मौका मुआयना भी किया है। इधर सड़क हादसे में दो भाईयों समेत तीन लोगों की मौत की सूचना से गोरियादेव गांव में मातम फैल गया। मृतकों के परिवारजनों व गांव वालों का रो-रोक कर बुरा हाल है।

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज़ लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें

हमसे संपर्क करने/विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें - +91 70170 85440

Leave a Reply

Your email address will not be published.