पीएनजी महाविद्यालय रामनगर को मिला जिला ग्रीन चैम्पियन अवार्ड

Ad
खबर शेयर करें

समाचार सच, रामनगर/हल्द्वानी (कुलदीप अग्रवाल)। महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण शिक्षा परिषद, उच्च शिक्षा विभाग शिक्षा मंत्रालय भारत सरकार द्वारा पीएनजी राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय रामनगर को महाविद्यालय परिसर में पौधरोपण, अपशिष्ट प्रबंधन, हरियाली, स्वच्छता, जल व ऊर्जा संरक्षण आदि में उत्कृष्ट कार्यों के लिए जिला ग्रीन चैम्पियन अवार्ड से सम्मानित किया गया। वर्चुअल रूप से आयोजित कार्यक्रम में मुख्य विकास अधिकारी डॉ.सन्दीप तिवारी ने प्राचार्य पीएनजी कॉलेज को चैम्पियन अवार्ड दिया।

मुख्य विकास अधिकारी डॉ. सन्दीप ने कहा कि सभी महाविद्यालयों को पीएनजी राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय से प्रेरित होकर परिसर की स्वच्छता, वर्षा जल संग्रहण, हरियाली, सोलर एनर्जी, सेनिटाईजेशन पर भी विशेष ध्यान देना चाहिए। उन्होंने कहा कि क्लीन एण्ड ग्रीन कैम्पस बनाने के लिए सभी को सामूहिक प्रयास करने चाहिए। उन्होंने कहा कि विद्यार्थी तथा शिक्षकों को आपसी तालमेल से पढ़ाई के साथ ही स्वच्छता पर भी ध्यान देना चाहिए क्योंकि आसपास का स्वच्छ वातावरण मन को प्रफुल्लित करता है तथा व्यक्ति एवं समाज को बीमारियों व तनाव से दूर रखने में सहायक सिद्ध होता है। इस अवसर पर महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण शिक्षा परिषद के परियोजना समन्वयक डॉ.शत्रुघ्न भारद्वाज तथा डॉ.समर्थ शर्मा ने स्वच्छ मैनुअल, स्वच्छ एवं ग्रीन कैम्पस आदि के साथ ही ग्रीन चौम्पियन अवार्ड चयन हेतु निर्धारित पैरामीटर के बारे में विस्तार से जानकारी दी।

यह भी पढ़ें -   मुख्य सचिव दिए डग्गामारी को रोकने के लिए विशेष प्रयास किए जाने के निर्देश

इस अवसर पर पीएनजी राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय के प्राचार्य एमसी पाण्डे ने प्रसन्नता व्यक्त करते हुए महाविद्यालय परिवार के सभी विद्यार्थियों तथा स्टाफ को बधाई दी। उन्होंने बताया कि महाविद्यालय में इको क्लब द्वारा राष्ट्रीय सेवा योजना, एनसीसी के विद्यार्थियों के सहयोग से विभिन्न प्रकार के पर्यावरण संरक्षण संबंधी आयोजनों एवं जन जागरूकता अभियानों को संचालित किया गया। उन्होंने बताया कि नवाचार में महाविद्यालय अपनी हरित सम्पदा का विवरण उपलब्ध कराएगा। वृक्षों पर उनकी प्रजाति और वानस्पतिक परिचय अंकित किया जाएगा और वृक्ष गणना भी की जाएगी। वर्चुअल आयोजित कार्यक्रम में डॉ.महेश कुमार, डा.शिव तिवारी, डॉ.सुनील कुमार, डॉ.दीपा, डॉ.आभा, डॉ.बीना, डॉ.एनएस बनकोटी आदि मौजूद थे।

Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *