mahesh joshi

केंद्र सरकार की हठधर्मिता से किसानों में आक्रोश : जोशी

खबर शेयर करें

समाचार सच, देहरादून। चिन्हित राज्य आंदोलनकारी संयुक्त समिति के केंद्रीय प्रवक्ता व कांग्रेस नेता महेश जोशी ने राजधानी दून मे आयोजित पत्रकार वार्ता मे 26 जनवरी को लाल किले पर झंडा फहराए जाने की निन्दा की। उन्होंने कहा कि ये ऐतिहासिक धरोहर है और हमारे आजादी की प्रतीक है। ये संवैधानिक व्यवस्था भी है कि लाल किले की प्राचीर से राष्ट्रीय ध्वज फहराया जाएगा। जो हमारी उन्नति समृद्धि व खुशहाली का प्रतीक है। जिस तरह से 26जनवरी के दिन किसानों की ट्रैक्टर रैली के दौरान कुछ असमाजिक तत्वों ने किसानों के आंदोलन को बदनाम करने का जो कृत्य किया उसमें संगीन धाराओं में मुकदमा दर्ज कर दोषियों के खिलाफ कार्यवाही होनी चाहिए। ये राष्ट्र की अस्मिता का सवाल है। इसकी निष्पक्ष जांच कर कार्यवाही होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार हठधर्मिता से चंद पूंजीपतियों धनाढ्य वर्ग को फायदा पहुंचाने को ये कानून लाई है जिससे किसान अपने को ठगा महसूस कर रही है। इस लिए पिछले दो महीने से कड़कड़ाती सर्दी में आंदोलनरत है। कांग्रेस किसानों के साथ खड़ी है। अब ये किसान आंदोलन न होकर जन आंदोलन बन गया है। जिससे देश का हर वर्ग प्रभावित हो रहा है। केंद्र सरकार को हठधर्मिता छोड़ कर किसानों के हित में इस काले कानून को वापस लेना चाहिए जिससे किसान अपने आप को व अपनी खेती को सुरक्षित महसूस कर सकें।

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज़ लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें

हमसे संपर्क करने/विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें - +91 70170 85440

Leave a Reply

Your email address will not be published.