सार्वजनिक रूप से हुई तकरार को प्रदेश भाजपा नेतृत्व ने लिया गंभीरता से, जांच कमेटी गठित

Ad
खबर शेयर करें

समाचार सच, देहरादून। रायपुर विधानसभा क्षेत्र में मुख्यमंत्री के कार्यक्रम से पहले क्षेत्रीय विधायक उमेश शर्मा काऊ और कुछ पार्टी कार्यकर्त्ताओं के मध्य सार्वजनिक रूप से हुई तकरार को प्रदेश भाजपा नेतृत्व ने गंभीरता से लिया है। प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक ने कहा कि इस मामले में प्रदेश महामंत्री कुलदीप कुमार की अध्यक्षता में जांच कमेटी गठित कर दी गई है, जो जल्द ही अपनी रिपोर्ट देगी। उन्होंने कहा कि पार्टी में अनुशासनहीनता किसी भी दशा में सहन नहीं की जाएगी। फिर चाहे कोई कितने भी बड़े पद पर क्यों न हो।

यह भी पढ़ें -   पुत्री की सकुशल वापिसी की पुलिस से लगाई गुहार

भाजपा नेताओं में अनुशासनहीनता के बढ़ते मामलों ने पार्टी नेतृत्व को असहज किया हुआ है। हाल में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने भी पार्टी के जनप्रतिनिधियों और पदाधिकारियों को निर्देश दिए थे कि वे किसी भी मामले में बयानबाजी से बचें। यदि किसी की कोई नाराजगी या समस्या है तो वह पार्टी फोरम में अपनी बात रखे। उसका निराकरण कराया जाएगा। बावजूद इसके पार्टी नेताओं के बीच बयानबाजी और नोकझोंक थमने का नाम नहीं ले रही। हाल में अनुशासनहीनता के मामले में पार्टी नेतृत्व नगर निगम ऋषिकेश की महापौर अनीता ममगाईं, ऋषिकेश के मंडल अध्यक्ष और पौड़ी के पूर्व जिलाध्यक्ष को नोटिस जारी कर चुका है। अब रायपुर क्षेत्र के विधायक उमेश शर्मा काऊ और पार्टी के पुराने कार्यकर्त्ताओं के बीच बढ़ी दूरी के साथ ही शनिवार को हुई तकरार ने पार्टी की परेशानी बढ़ा दी है।

यह भी पढ़ें -   लंबित मांगों पर कार्रवाई न होने से नाराज राज्य आंदोलनकारी पेड़ में चढ़े

भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक ने कहा कि जांच कमेटी इस मामले की गहनता से पड़ताल करेगी। कमेटी की रिपोर्ट के आधार पर आगे की कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। उधर, जांच कमेटी के अध्यक्ष कुलदीप कुमार ने बताया कि प्रकरण में हफ्तेभर में जांच पूरी कर रिपोर्ट प्रदेश अध्यक्ष को सौंपी जाएगी।

Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *