शिक्षा का आधार व राष्ट्र का निर्माता भी होता है शिक्षक: कैड़ा

खबर शेयर करें

राजकीय माध्यमिक शिक्षक संघ (सी.टी.) के प्रथम कुमाऊं मंडल अधिवेशन

समाचार सच, हल्द्वानी। शिक्षा का प्रमुख आधार शिक्षक ही होता है। शिक्षक न केवल विद्यार्थी के व्यक्तित्व का निर्माता, बल्कि राष्ट्र का निर्माता भी होता है। अगर सही तरीके से राष्ट्रीय भावना नैतिकता का पाठ प्राइमरी कक्षा से ही पढ़ाया जाए तब बच्चों में जो संस्कार पैदा होगा वह राष्ट्रीय निर्माण में सहायक होगा। यह बात भीमताल विधायक राम सिंह कैड़ा ने रविवार को यहां राजकीय बालिका इंटर कॉलेज सभागार में आयोजित राजकीय माध्यमिक शिक्षक संघ (सी.टी.) के प्रथम कुमाऊं मंडल अधिवेशन को बतौर मुख्य अतिथि संबोधित करते हुए कही। उन्होंने कहा कि बेहतर शिक्षा के नींव प्राथमिक कक्षा में ही तैयार होती है। इसलिए शिक्षकों की जिम्मेदारी और बढ़ जाती है। शिक्षकों को चाहिए कि वह छात्रों में किताबी शिक्षा के साथ-साथ सांस्कारित शिक्षा का भी समावेश करें। इससे पूर्व अतिथियों ने दीप प्रज्जवलित कर अधिवेशन का शुभारंभ किया। इस अघ्धिवेशन में देश-प्रदेश में नई शिक्षा नीति-2020 के परिप्रेक्ष्य में छात्रों के सर्वांगीण विकास व गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रदान करने में शिक्षकों की भूमिका पर विस्तृत चर्चा की गई। साथ ही नई शिक्षा नीति में सरकारी स्कूलों में समान रूप से समाज के सभी वर्गों के बच्चों के हितों को सुरक्षित रखने व छात्र संख्या बढ़ाने पर विचार किया गया। वक्ताओं ने स्कूली शिक्षा के बाद छात्र-छात्राओं को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा व बेहतर रोजगार के साधन उपलब्ध कराने में शिक्षकों की भूमिका के साथ ही राज्य के ग्रामीण क्षेत्रों में होने वाले पलायन को रोकने हेतु छात्र-छात्राओं को रोजगारपरक तकनीकि व व्यवसायिक शिक्षा देने पर जोर दिया।

इस दौरान संघ के प्रदेश संयोजक/ अध्यक्ष अजय राजपूत, प्रांतीय महासचिव बीरेंद्र सिंह कुंवर, नैनीताल जिलाध्यक्ष कृष्णा आर्य, महामंत्री डॉ उमा जोशी, जिलाध्यक्ष अल्मोड़ा ठाकुर सिंह चौहान, धीरेंद्र कुमार पाठक, महेश चन्द्र जोशी, अरविन्द मोहन जोशी, गीता लोहनी, जानकी, शशि जोशी, प्रेमा फर्त्याल, डॉ दीप्ति पांडेय, रेखा शाह, निर्मला पंत, मीनाक्षी कांडपाल, नीरज सिंह ओझा समेत कई शिक्षक मौजूद रहे।

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज़ लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें

हमसे संपर्क करने/विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें - +91 70170 85440

Leave a Reply

Your email address will not be published.