सरकार के निर्णय के निर्णय का टैंट व्यवसायियों ने किया स्वागत, बांटी मिठाई

Ad
Ad
खबर शेयर करें

समाचार सच, हल्द्वानी। विवाह समारोह में टैंट की क्षमता के 50 प्रतिशत लोगों को शामिल करने व कोविड आरटीपीसीआर रिपोर्ट की अनिवार्यता समाप्त करने के निर्णय का टैंट व्यवसायियों ने स्वागत किया है। उन्होंने सरकार का आभार जताने के साथ ही मिष्ठान वितरित भी किया।

विवाह समारोह व्यापार संघर्ष समिति की यहां आयोजित बैठक में सरकार के निर्णय का स्वागत किया गया। समिति के मुख्य संयोजक नवीन पांडे सन्नू ने कहा कि कोविड संक्रमण काल के चलते टैंट व्यवसाय बघ्ुरी तरह प्रभावित रहा है। इससे टैंट कारोबारियों के समक्ष आर्थिक संकट उत्पन्न हो गया। चूंकि वर्तमान में कोविड संक्रमण दर काफी कम है, ऐसे में सरकार का निर्णय स्वागतयोग्य है। सह संयोजक रूपेंद्र नागर ने कहा कि सरकार के विवाह समारोहों में टैंट की क्षमता के 50 प्रतिशत लोगों को शामिल करने व आरटीपीसीआर रिपोर्ट की अनिवार्यता समाप्त होने का लाभ व्यवसायियों को मिलेगा। यह निर्णय टैंट व्यवसायियों को काफी हद तक राहत पहुंचाएगा।

यह भी पढ़ें -   महिला ने पुलिस को तहरीर सौंप लगाई युवकों के खिलाफ कार्रवाई की गुहार

महानगर टैंट एसोसिएशन के अध्यक्ष हर्षवर्द्धन पांडे ने कहा कि सरकार का यह निर्णय टैंट व्यवसायियों के लिए संजीवनी का काम करेगा। कहा कि विगत 2 वर्षों से विवाह समारोह से जुड़े व्यापारियों को काम नहीं होने के कारण आर्थिक एवं मानसिक परेशानी का सामना करना पड़ रहा था। अब नए आदेश आने के बाद व्यापारियों को थोड़ी राहत मिलेगी। निर्णय लिया गया कि जल्द ही विवाह समारोह से जुड़े व्यापारियों की एक टीम कैबिनेट मंत्री माननीय बंशीधर भगत का आभार जताने उनके निवास पर जाएगी। इस दौरान संगठन से जुड़े व्यापारियों ने मिष्ठान वितरण कर खुशी जताई। हर्ष जताने वालों में बैंक्वट हॉल अध्यक्ष धीरज पांडे, टैंट एसोसिएशन के चेयरमैन प्रकाश भट्ट, महामंत्री लक्ष्मण सिंह बिष्ट, विमल तोलिया, मनोज कपिल, चंदन साह, भगवती प्रसाद जोशी सहित व्यापारी प्रतिनिधि उपस्थित रहे।

Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *