नीबू की सुगंध लिए लेमन ग्रास टी पीने के बेहतरीन स्वास्थ्य लाभ

Ad
खबर शेयर करें

समाचार सच, स्वास्थ्य डेस्क। नींबू की सुगंध लिये लेमन ग्रास में जबरदस्त औषधीय गुण होते हैं। यह घास विटामिन ए और सी, फोलेट, फोलिक एसिड, मैग्नीशियम, जिंक, कॉपर, आयरन, पोटैशियम, फास्फोरस, कैल्घ्शियम और मैगनीज़ से भरपूर्ण होती है।
लेमन ग्रास टी सेहत के लिये लाभकारी मानी गई है। यह एंटीबैक्टीरियल, एंटीफंगल, कैंसर विरोधी, एंटीडिप्रेसेंट गुणों से भरी होती है। ताजी सूखी लेमन ग्रास आज बाजारों में भी उपलब्ध हैं। लेमन ग्रास की चाय अधिकतर घरों में बनाई जाती है।

मसाला चाय बनाने की विधि –
लेमन ग्रास टी बनाना आसान है, आपको बस एक चम्मच लेमन ग्रास को 1 कप पानी में 10 मिनट खौलाना है। आप चाहें तो इसमें स्वाद बढ़ाने के लिये अदरक या शहद भी मिक्घ्स कर सकते हैं।

बाजार में इसके टी बैग्स भी आने लगे हैं। दिन में दो कप लेमन ग्रास पीने से सेहत में सुधार होता है। प्रेगनेंट महिलाओं तथा दवाई खाने वालों को यह नहीं पीनी चाहिये।

यह भी पढ़ें -   रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत करेंगे दादी मां के घरेलू नुस्खे

पाचन में मदद करे
इसमें एंटीसेप्टिक कंपाउंड होते हैं जो कि पेट के बैक्टीरिया और पैरासाइट को मारते हैं और अच्छे बैक्टीरिया की पैदावार बढ़ाते हैं। इसे पीने से कब्ज, हार्ट बर्न, डायरिया, अपच, पेट फूलने, पेट दर्द और मतली आदि नहीं होती।

कोलेस्ट्रॉल लेवल कंट्रोल करे
यह कोलेस्ट्रॉल को कंट्रोल करने के साथ ही ब्लड प्रेशर को भी नियंत्रित करता है। आपको इसकी चाय रोजाना एक कप पीनी चाहिये।

शुद्ध और डिटॉक्स करे
रोजाना लेमन ग्रास टी पीने से शरीर डिटॉक्स होता है और विशैले पदार्थ पेशाब द्वारा बाहर निकलते हैं। इससे किडनी, लिवर, ब्लैडर और पैनक्रियाज़ की भी सफाई होती है।

यह भी पढ़ें -   देसी घी,अदरक और दालचीनी जैसे घरेलू उपायों से कम होगा माईग्रेन का दर्द, जानिए कैसे

सर्दी जुखाम दूर करे
यह एंटीबैक्टीरियल और एंटीफंगल गुणों से भरा है, जिससे कफ,फीवर और जुखाम के लक्षणों से राहत मिलती है। इसके साथ ही इसमें विटामिन सी भी होता है जिससे इम्घ्मयून सिस्टम मजबूत बनता है और शरीर को बीमारियां नहीं लगती।

कैंसर से लड़े
इसमें काफी सारे एंटीऑक्सीडेंट तत्व पाए जाते हैं जो कैंसर पैदा करने वाली कोशिकाओं का नाश करती हैं।

गठिया के दर्द से राहत
इसके एंटी-इंफ्लेमेटरी और पेन-रिलीविंग प्रॉपर्टी की वजह से यह गठिया से सम्बन्धित जोड़ों के दर्द से राहत दिलाती है। साथ ही यह मासपेशियों की एठन और स्प्रेन में भी राहत देती है।

नई मां के लिये गुणकारी
स्तनपान करवाने वाली महिलाएं दिन में दो कप लेमन ग्रास टी पी सकती हैं। यह उनका दूध बढ़ाने में मददगार है। इससे बच्चे भी संक्रमण से बचे रहेंगे और स्वस्थ रहेंगे। प्रेगनेंसी के समय इसे पीने से बचें।

यह भी पढ़ें -   मुलेठी एक ऐसी आयुर्वेदिक औषधि है जो कई प्रकार की बीमारियों से बचाती है

डिप्रेशन से बचाए
इसमें मौजूद एंटीडिप्रेसेंट गुण, दिमाग को शांत कर के डिप्रेशन से बचाते हैं। इसको पीने से नींद भी अच्छी आती है। जब भी आपका मूड खराब सा लगे, तब एक कप लेमन ग्रास टी जरुर पियें।

त्वचा में लाए निखार
यह त्वचा के बडे़ पोर्स को छोटा करने तथा फंगल इंफेक्शन को दूर करता है। इसे पीने से चेहरे पर मुंहासे नहीं होते क्योंकि यह एंटीबैक्टीरियल होता है। ऑइली स्किन वालों को इसकी चाय जरुर पीनी चाहिये।

अनिंद्रा दूर करे
यह चाय मासपेशियों तथा नर्व को शांत करती है, जिससे नींद अच्छी तरह से आती है।

Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *