बच्चों को स्कूल ले जा रही बस खाई में गिरी, चीड़ के पेड़ ने बड़ा हादसा होने से बचाया

खबर शेयर करें

समाचार सच, पिथौरागढ़। उत्तराखंड के पिथौरागढ़ जिले के बेरीनाग के चौकोड़ी में एक स्कूल बस खाई में गिर गई। अगर बस चीड़ के पेड़ से नहीं रूकती तो बड़ा हादसा हो सकता था। चीख-पुकार के बीच बस में बैठे एक शिक्षक ने बच्चों को बाहर निकाल कर उनकी जान बचाई। फिलहार दो बच्चों सिर और हाथ में गंभीर चोटे आई हैं। जिन्हें सीएचसी में भर्ती करवाया है।

जानकारी के अनुसार मंगलवार की सुबह हिमालय इंटर कॉलेज चौकोड़ी के बच्चो और शिक्षकों को लेकर बस संख्या यूके 04 पीए 0399 जा रही थी। तभी रास्ते में गिरे बिजली के तार को हटाने के लिए बस चालक इन्द्र सिंह बस को रोक कर उतरा तो बस अचानक से ढलान पर खुद ही चलने लगी और खाई में पलटने के बाद चीड़ के पेड़ से टकरा गई। इसके बाद वह पेड़ के सहारे से रुक गई।

यह भी पढ़ें -   आखिरकार आदमखोर गुलदार पिंजरे में कैद, दो बच्चों को बनाया था निवाला

इस दौरान बस में सवार बच्चे और शिक्षक बस से बाहर उतर गए लेकिन अंदर बस में दो बच्चे रह गए और बस 50 फ़ीट नीचे खाई में जा गिरी। गनीमत रही कि बस एक पेड़ पर अटक कर रुक गई। जिसके बाद वहां चीख-पुकार मच गई। शिक्षक नरेंद्र सिंह धानिक ने घायल बच्चों को बस से बाहर निकाला और सीएचसी बेरीनाग पहुंचाया। जहां पर दोनों का उपचार किया जा रहा है। इस दुर्घटना में दसवीं कक्षा के छात्र लक्षित पंत और 12वीं कक्षा की छात्रा बिनीता बोहरा घायल हो गई।

यह भी पढ़ें -   हल्द्वानी के सिनेमा व्यवसायी लक्ष्मण प्रसाद का निधन, दौड़ी शोक की लहर

बस हादसे की सूचना प्राप्त होते ही पुलिस भी घटनास्थल पर पहुंची। पुलिस अब दुर्घटना के कारणों की जांच कर रही है। अगर बस पेड़ से नहीं रुकती तो बड़ा हादसा हो सकता था। स्कूल के स्टाफ ने सीएचसी बेरीनाग को जाकर बच्चों की हाल-चाल जाना। प्रभारी निरीक्षक उमराव सिंह ने बताया कि घटना के कारणों की जांच की जा रही है, इसके बाद अग्रिम कार्रवाई की जाएगी।

Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज़ लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें

हमसे संपर्क करने/विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें - +91 70170 85440