फेरी वाले ने घर में घुसकर मासूम को उठाकर ले जाने का किया प्रयास, लोगों ने पकड़ कर पुलिस सौंपा

खबर शेयर करें

समाचार सच, यूएस नगर। उत्तराखंड के उधमसिंह नगर जिले में एक सनसनीखेज घटना सामने आई है। यहां आदर्श इंदिरा बंगाली कॉलोनी में बैग बेचने के बहाने घर में घुसकर ढाई साल की बच्ची को ले जाते देख बड़ी बहन ने शोर मचा दिया। इसके बाद बच्ची की मां और स्थानीय लोगों ने फेरी वाले को पकड़कर उसके मंसूबों पर पानी फेर दिया। वह बच्ची को कहां और क्यों ले जा रहा था, यह साफ नहीं हो सका है। आरोपी का कोई आपराधिक रिकार्ड नहीं मिला है। घटना के समय वह नशे में था।

यह भी पढ़ें -   उत्तराखण्ड में छात्र संघ चुनाव में छात्राओं को मिलेगा 50 फीसदी प्रतिनिधित्व, उच्च शिक्षा मंत्री ने कुलपतियों को निर्देश

आदर्श इंदिरा बंगाली कॉलोनी में शीला बढोई अपने परिवार के साथ टिनशेड के मकान में रहती है। बताया जाता है कि बुधवार दोपहर घर के पास किसी का निधन हो गया था तो शीला वहां गई थी। गर्मी की वजह से घर का दरवाजा खुला था।

मासूम सहित दो बच्चे बेड पर सो रहे थे। शीला के मुताबिक दो बच्चे घर के बाहर खेल रहे थे। इसी बीच आरोपी बैग बेचने की बहाने से घर के पास आया और अंदर घुसकर उसकी ढाई साल की बेटी को गोद में उठाकर भागने लगा। ये देख उनकी 12 साल की बेटी ने शोर मचा दिया, जिस पर मोहल्ले वालों के साथ वह भी चिल्लाते हुए आरोपी के पीछे भागी थी।

यह भी पढ़ें -   सखी सहेली ग्रुप की सुमन अध्यक्ष व खुशबू बनी महामंत्री

इस दौरान कुछ दूरी पर आरोपी ने उसकी बेटी को जमीन पर फेंका और भागने लगा। लेकिन लोगों ने उसे पकड़ लिया था और पुलिस को दे दिया। सड़क पर फेंकने पर बच्ची को चोट आई है। शीला और मोहल्लेवालों का कहना था कि अगर बच्ची शोरगुल नहीं करती और लोग वहां नहीं रहते तो आरोपी बच्ची को अपने साथ ले जाते। इस घटना के बाद बच्चों की सुरक्षा को लेकर चिंता बढ़ गई है।

Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज़ लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें

हमसे संपर्क करने/विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें - +91 70170 85440