Mandir se abhusan chori

चोरों ने नहीं छोड़ा भगवान का दर, प्राचीन मनसा देवी मंदिर में सेंध लगाकर उड़ाया दान पात्र

खबर शेयर करें

समाचार सच, ऋषिकेश। शहर में चोरों के हौंसले बुलंद है। चोर घरों, दुकानों ही नहीं बल्कि मंदिरों को भी निशाना बनाने से नहीं चूक रहे हैं। ताजा मामले में चोर प्राचीन मनसा देवी मंदिर में सेंध लगाकर दान पात्र, अष्टधातु से बने कलश, नाग और घंटियां ले उड़े। सूचना पर पहुंची पुलिस ने मौका मुआयना कर चोरों की तलाश शुरू कर दी है।

हरिद्वार बाईपास मार्ग के किनारे स्थित मनसा देवी क्षेत्र में देर रात चोर प्राचीन मनसा देवी मंदिर में घुसे और मंदिर के दरवाजे का ताला तोड़कर चोरी की घटना को अंजाम दिया। मंदिर के पुजारी ऋषिराम सिल्सवाल ने बताया कि चोर मंदिर से अष्टधातु से बना कलश, नाग, चांदी के छत्र और दानपात्र लेकर चंपत को गए हैं। बताया कि मंदिर में रखवाली के लिए कुंवर सिंह चौहान केयर टेकर के रूप में रहते हैं। उनका कमरा मंदिर के किनारे है। चोरों ने मंदिर में प्रवेश से पहले उनके दरवाजे की बाहर से कुंडी लगाकर केयर टेकर को कमरे में बंद कर दिया। सुबह आकर उन्हें कमरे से बाहर निकाला। क्षेत्रवासी गोपाल नेगी, जितेंद्र भट्ट, कलम सिंह कैंतुरा ने क्षेत्र में चोरी की बढ़ती घटनाओं पर आक्रोश जताते हुए पुलिस से रात्रि गश्त बढ़ाए जाने की मांग की है।

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज़ लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें

हमसे संपर्क करने/विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें - +91 70170 85440

Leave a Reply

Your email address will not be published.