इस बार मकर संक्रांति पर श्रद्धालुजन नहीं लगा पायेंगे हरि की पैड़ी पर डुबकी

खबर शेयर करें

समाचार सच, हरिद्वार। इस बार मकर संक्रांति पर भक्त-श्रद्धालुजन हरि की पैड़ी पर डुबकी नहीं लगा पायेंगे। आपकों बता दें कि वर्तमान में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए गंगा स्नान के लिए हरि की पैड़ी सहित सभी गंगा घाटों पर किसी को भी जाने की इजाजत नहीं होगी। दरअसल मकर संक्रांति के दिन बड़ी तादाद में लोगों के गंगा स्नान करने की उम्मीद है।

Ad

उत्तराखंड में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए हरिद्वार जिला प्रशासन ने 14 जनवरी मकर संक्रांति स्नान के अवसर गंगा में डुबकी लगाने पर पाबंदी लगा दी है। इसको लेकर जिलाधिकारी विनय शंकर पांडे द्वारा एक निर्देश जारी किया है। इसमें कहा गया है कि मकर संक्रांति के दिन स्थानीय और बाहरी किसी भी व्यक्ति को गंगा स्नान करने की अनुमित नहीं होगी।

यह भी पढ़ें -   महिला से नौकरी दिलाने के नाम पर हड़पे पांच लाख

कोरोना प्रसार रोकने के लिए कदमरू जारी निर्देश में कहा गया है कि गंगा स्नान के लिए हरकी पैड़ी सहित सभी गंगा घाटों पर किसी को भी जाने की इजाजत नहीं होगी। दरअसल मकर संक्रांति के दिन बड़ी तादाद में लोगों के गंगा स्नान करने की उम्मीद है। ऐसे में कोरोना वायरस के नए वेरिएंट ओमिक्रोन के प्रसार को रोकने के लिए प्रशासन की तरफ से यह कदम उठाया गया है।

यह भी पढ़ें -   केंद्रीय कर्मचारियों के लिये खुशखबरी, हो सकता है इस माह 18 महीने के बकाया एरियर पर फैसला, ट्रांसफर होंगे खाते में 2 लाख रुपये

उल्लंघन पर होगी कार्रवाईरू आदेश में कहा गया है कि 14 जनवरी की रात 10 बजे से सुबह 6 बजे तक रात कर्फ्यू लगाया जाएगा। वहीं धार्मिक मण्डली पर जिला प्रशासन ने पूरी तरह से प्रतिबंध लागू किया है। इस दौरान अगर कोई कोविड प्रोटोकॉल का पालन नहीं करता है तो उसके खिलाफ महामारी रोग अधिनियम 1897 के तहत कार्रवाई की जाएगी।

Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *