देवस्थानम बोर्ड भंग करने की मांग को लेकर तीर्थ पुरोहितों ने निकाली जनाक्रोश रैली, बैरिकेडिंग लगाकर पुलिस ने रोका

खबर शेयर करें

समाचार सच, देहरादून। देवस्थानम बोर्ड भंग करने की मांग को लेकर तीर्थ पुरोहित और हक-हकूकधारी महापंचायत का आंदोलन तेज होता नजर आ रहा है। शनिवार को तीर्थपुरोहितों ने जन आक्रोश रैली निकाल काला दिवस मनाया। इस दौरान पुलिस ने सुभाष रोड स्थित बैरिकेडिंग लगाकर तीर्थपुरोहितों को रोक लिया। इस दौरान उनकी पुलिस के साथ धक्का-मुक्की भी हुई। जन आक्रोशि रैली को नेता प्रतिपक्ष प्रीतम सिंह और कांग्रेस महानगर अध्यक्ष लालचंद शर्मा ने शामिल होकर अपना समर्थन दिया।

Ad

महापंचायत के प्रदेश प्रवक्ता डा. बृजेश सती ने कहा कि कैबिनेट में 27 नवंबर 2019 को श्राइन बोर्ड के गठन का प्रस्ताव पारित हुआ था, जिसे आज दो साल पूरे होंगे। बोर्ड के प्रस्ताव के विरोध में आज गांधी पार्क से सचिवालय के लिए जन आक्रोश रैली निकाली गई हैं। रैली में चारों धामों के तीर्थ पुरोहित और हक-हकूकधारी शामिल रहे। उन्होंने कहा कि श्राइन बोर्ड के दो वर्ष पूरे होने पर चारों धामों के तीर्थ पुरोहित और इन मंदिरों से जुड़े हक-हकूकधारी काला दिवस के रूप में भी मनाएंगे।

यह भी पढ़ें -   खुलासा: नवीन मंडी की आढ़त से लाखों रुपये की नगदी उड़ाने वाले दो चोर चढ़े पुलिस के हत्थे

तीर्थ पुरोहितों का कहना था कि इससे पहले चारधाम देवस्थानम प्रबंधन बोर्ड को भंग करने की मांग को लेकर बीते दिनों तीर्थ पुरोहितों ने कैबिनेट मंत्रियों के आवास का घेराव किया था। इस दौरान उन्होंने मांग पर मिल रहे आश्वासन पर नाराजगी जताई। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि सरकार कार्यवाही करने के बजाय सिर्फ आश्वासन देकर उन्हें गुमराह कर रही है। तीर्थ पुरोहितों ने एक स्वर में चेतावनी देते हुए कहा कि यदि सरकार की ओर से पूर्व में मिले आश्वासन के तहत यदि 30 नवंबर को मांग पूरी नहीं हुई तो उग्र आंदोलन किया जाएगा।

Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *