atul gupta gandhi

व्यापारियों ने की राज्य सरकार से मांग, सप्ताह में खोला जाये तीन दिन बाजार

खबर शेयर करें

समाचार सच, हल्द्वानी। राज्य सरकार द्वारा काविड कर्फ्यू में केवल दूध, सब्जी फल व मीट विक्रेताओं को ही सुबह 7 से 10 तक दुकाने खोलने की अनुमति दी गयी है। जिसके के चलते अन्य दुकानदारों के समक्ष रोजी-रोटी का संकट पैदा हो गया है। अब दुकानदार राज्य से सप्ताह में तीन दिन बाजार खोले जाने की मांग करने लगे हैं।
देवभूमि उद्योग व्यापार मंडल की वर्चुअल बैठक युवा कुमाऊ मंडल के सभी पदाधिकारियों ने व्यापारियों की पीड़ा पर चिंता व्यक्त करते हुए कहा है कि जिस प्रकार से कोविड कर्फ्यू लगा हुआ है उसे व्यापारी वर्ग हर तरफ से त्रस्त हो चुका है उसे बैंक की किस्त, कर्मचारियों की तनख्वाह और दुकान का किराया आदि अन्य खर्चाे की देनदारी उन पर पड़ गयी है।
इस लिये व्यापार मंडल शासन प्रशासन से मांग करता है कि अब प्रदेश में संक्रमण कम होता जा रहा है, जिसको देखते हुए बाजार को कम से कम हफ्ते में 3 दिन खोला जाए या एक दिन दाए और बायें (आड इवन) की पद्धति को अपनाते हुए दुकानों खोला जाये।
वर्चुअल बैठक में प्रदेश महामंत्री राजकुमार केसरवानी कहना था कि व्यापारियों को जल्द राहत दी जाए क्योंकि व्यापारियों ने लगभग एक माह से अपना कारोबार बंद किया हुआ है। जिसको देखते हुए शासन प्रशासन को व्यापारियों का राहत प्रदान की जानी चाहिए। युवा मंडल अध्यक्ष अतुल कुमार गुप्ता कहना था कि व्यापारियों को भी सरकार की तरफ से एक राहत पैकेज मिलना चाहिए, ताकि वह बंदी के दौरान आयी देनेदारी से राहत पा सके।
वर्चुअल मीटिंग में प्रदेश महामंत्री राजकुमार केसरवानी युवा मंडल अध्यक्ष अतुल कुमार गुप्ता प्रदेश कोऑर्डिनेटर जगमोहन चिलवाल राकेश बेलवाल, उमेश गुप्ता, भूपेंद्र बिष्ट, देवेंद्र तिवारी, भास्कर सुयाल, गौरव पांडे, ललित बेलवाल, रवि गुप्ता, विजय नारायण त्रिपाठी, पवनीत नागपाल, जतिन अग्रवाल, अंश गुप्ता, अमित शर्मा, रवि नेगी, शुभम भट्ट, रंजन डोरवीं, हिमांशु दानी, गौरव जोशी, उदय गुप्ता, रोहित, योगेश बेलवाल, सुमित साहू, संजय पंरगाई, निखिल सुनाल आदि पदाधिकारी मीटिंग में मौजूद थे।

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज़ लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें

हमसे संपर्क करने/विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें - +91 70170 85440

Leave a Reply

Your email address will not be published.