ट्रांसपोर्टरों की तीन दिवसीय हड़ताल से कुमाऊं भर का माल-ढुलान का कार्य रहा ठप

खबर शेयर करें

समाचार सच, हल्द्वानी। पुलिस व सीपीयू द्वारा चालान के रवैये से तंग आकर देवभूमि ट्रक ऑर्नर यूनियन के बैनर तले ट्रांसपोर्टरों ने तीन दिन की हड़ताल शुरू कर हो गयी है। रविवार को ट्रांसपोर्टरों की हड़ताल से कुमाऊं भर का माल-ढुलान का कार्य पूरी तरह से ठप रहा। इधर महानगर के ट्रांसपोर्टरों ने ट्रक आदि वाहन खड़े कर जोरदार प्रदर्शन किया। हड़ताल को पर्वतीय जिलों के ट्रांसपोर्टरों समेत प्रान्तीय उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मण्डल के व्यापारियों ने भी समर्थन दिया है। इधर ट्रांसपोर्टरों की हड़ताल को देवभूमि व्यापार मंडल, खनन कारोबारियों आदि ने भी समर्थन दिया है।

Ad

पूर्व नियोजित कार्यक्रम के तहत देवभूमि ट्रक ऑर्नर यूनियन से जुड़े ट्रांसपोर्टर रविवार से हड़ताल पर चले गए हैं। जिसके तहत ट्रांसपोर्टर ने रानीबाग में एकत्र होकर ट्रकों को खड़ा करके जोरदार प्रदर्शन किया। इस मौके पर प्रदर्शनकारी ट्रांसपोर्टरों ने आरोप लगाते हुए कि कोरोना काल में पहले से ही ट्रांसपोर्टर परेशान हैं और अब पुलिस व सीपीयू चालान के नाम पर उनका उत्पीडऩ कर रहे हैं। ट्रांसपोर्टर हरजीत चड्ढा ने बताया कि 14 सितम्बर तक कुमाऊं के सभी जिलों की सप्लाई ठप है। हड़ताल में मैदानी क्षेत्र शामिल नहीं है।

यह भी पढ़ें -   उत्तराखण्ड में आप ने जारी की उम्मीदवारों की पहली सूची, जानिए कौन किस सीट से लड़ेगा चुनाव…

सीपीयू व पुलिस की कार्यप्रणाली से प्रांतीय उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल नाराज
प्रान्तीय उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल द्वारा ट्रांसपोर्ट व्यापारियों की मांग का समर्थन किया है। जिलाध्यक्ष विपिन गुप्ता ने कहा कि सीपीयू एवं यातायात पुलिस द्वारा चालान के नाम पर व्यापारियों का उत्पीड़न किया जा रहा है। कोरोना महामारी के कारण व्यापारी लगातार व्यापार में संघर्ष करता आ रहा है। ऐसे में चालान के नाम पर पुलिस द्वारा किया जा रहा उत्पीड़न सरासर अन्याय पूर्ण है। जिला महामंत्री हर्ष वर्द्धन पांडे ने कहा कि यदि जल्द चालान के नाम पर सीपीयू, यातायात पुलिस द्वारा व्यापारियों का उत्पीड़न नहीं रोका गया तो प्रशासन को व्यापारियों का भारी विरोध का सामना करना पड़ेगा। इधर ट्रांसपोर्ट नगर के अध्यक्ष अमरजीत सिंह सेठी तथा महामंत्री प्रदीप सबरवाल कहना है कि ट्रांसपोर्ट व्यापारियों का उत्पीड़न किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। उन्होंने बताया कि उनके द्वारा एसएसपी से मुलाकात की गयी थी। जिसमें उनके द्वारा हमें आश्वासन दिया गया था। इसलिए उनके संगठन द्वारा आज की हड़ताल में सहभाग नहीं किया गया है। परन्तु शीघ्र सुनवायी नहीं होने पर प्रान्तीय उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल के सभी घटक दलों से मिलकर वृहद आंदोलन चलाया जाएगा।

Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *