बारिश के मौसम में तुलसी आपको कई स्वास्थ्य सम्बन्धी समस्याओं से छुटकारा दिला सकती है

खबर शेयर करें

समाचार सच, स्वास्थ्य डेस्क। भारत में ज्यादातर घरों में तुलसी का पौधा तो होता ही है। औषधीय गुणों की खान इस पौधे की आयुर्वेद में बेहद फायदेमंद बताया गया है। तुलसी की पत्तियों की सीधे खाने के साथ ही काढ़ा बनाकर, चाय में डालकर, चूर्ण बनाकर, तुलसी का पानी आदि कई तरह से इसका सेवन किया जा सकता है। तुलसी वात, कफ, पित्त को कम करने में कारगर मानी गई है, इसलिए बारिश के मौसम में तुलसी आपको कई हेल्थ प्रॉब्लम से छुटकारा दिला सकती है।

तुलसी का धार्मिक महत्व तो माना ही गया है, वहीं आयुर्वेद में भी इसके बारे में विस्तार से बताया गया है। इसमें कई तरह के न्यूट्रिएंट्स के अलावा एंटी-बैक्टीरियल गुण भी पाए जाते हैं और इसलिए ये मानसून के सीजन में सेहत के लिए और भी ज्यादा फायदेमंद मानी जाती है। तो चलिए जान लेते हैं कि मानसून में कैसे आपके काम आ सकती हैं तुलसी की पत्तियां।

यह भी पढ़ें -   श्रावण माह 2024: सावन के महीने में रोजाना करें ये काम, भगवान शिव हो जाएंगे खुश

रोजाना सुबह खाली पेट लें तुलसी की पत्तियां
बदलते मौसम में वायरल इंफेक्शन से बचे रहने के लिए इम्यूनिटी बूस्ट होना बेहद जरूरी है। इसके लिए रोजाना सुबह तुलसी की तीन से चार पत्तियां गुनगुने पानी के साथ निगलना चाहिए। हालांकि पत्तियां चबाने से बचें, नहीं तो इससे आपके दांतों को नुकसान होता है। इस बात का भी ध्यान रखें कि तुलसी की पत्तियां लगातार 40 दिन से ज्यादा न खाएं।

खराश-खांसी में दिलाती है आराम
मानसून में कभी बारिश तो कभी गर्मी की वजह से मौसम के तापमान में उतार-चढ़ाव होता रहता है और इस वजह से गले में खराश, खांसी, जुकाम जैसी दिक्कत होने लगती हैं। इसमें आराम के लिए तुलसी की पत्तियों को पानी में उबालकर पीने से राहत मिलती है या फिर चाय में डालकर तुलसी की पत्तियों का सेवन किया जा सकता है।

यह भी पढ़ें -   रामनगर में लोपिंग न करने डीएम ने जताई नाराजगी, विद्युत विभाग के अधिकारियों की लगी फटकार, आपदा प्रभावित क्षेत्रों का किया निरीक्षण

पेट संबंधित समस्याओं से राहत
मानसून में बैक्टीरिया पनपने की वजह से या फिर गलत खानपान की वजह से पेट संबंधित समस्याएं होना काफी आम होता है। इससे छुटकारा पाने के लिए तुलसी की 8 से 10 पत्तियां लेकर थोड़े से जीरा के साथ पीस लें और इसे थोड़ा-थोड़ा करके शहद के साथ खाने से काफी आराम मिलता है।

घाव में इंफेक्शन से बचाव करती है तुलसी
बारिश के मौसम में कई बार स्किन पर दाने या फिर घाव हो जाने पर इंफेक्शन हो जाने का डर रहता है। इससे बचने के लिए इस दौरान तुलसी के पत्तों का सेवन करना चाहिए. इसमें मौजूद एंटी बैक्टीरियल गुण घाव में इंफेक्शन होने से बचाव करते हैं।

Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज़ लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें

हमसे संपर्क करने/विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें - +91 70170 85440