CM T-1

उत्तराखंड के सीएम की ज़बान फिर फिसली, कहा- वाराणसी में भी लगता है महाकुंभ

खबर शेयर करें

समाचार सच, देहरादून (फरहत रऊफ)। उत्तराखंड के सीएम तीरथ सिंह रावत गलत बयान देकर एक बार फिर चर्चा में आ गए हैं। यहां हरिद्वार में कुंभ के दौरान एक लोकार्पण कार्यक्रम में सीएम रावत की जुबान फिसल गयी। हुआ यूं संबोंधन के दौरान सीएम तीरथ सिंह रावत ने कह दिया हरिद्वार और उज्जैन के साथ कुंभ वाराणसी में भी मनाया जाता है। इन बातों का एक वीडियो अब सोशल मीडिया पर भी खूब वायरल हो रहा है।

कुंभ के बारे में बताते वक्त सीएम रावत की जुबान फिसल गई। उन्होंने कहा, “महाकुंभ हर 12 साल में आता है। हर साल नहीं आता है। मेले जगह-जगह होते हैं, कहीं भी हो सकते हैं। लेकिन कुंभ हरिद्वार में ही होता है, 12 साल में होता है, बार-बार नहीं होता है। बनारस में होता है, उज्जैन में होता है। यह इसलिए भव्य-दिव्य होना चाहिए। भव्य-दिव्य के साथ में भी प्रकृति ने कोरोना जिससे पूरा देश नहीं, तो विश्व भी परेशान है, त्रस्त है, पीड़ित है। आज आदरणीय प्रधानमंत्री मोदीजी के नेतृत्व में इस समस्या से निकाल के लाने का काम किया गया है।
गौरतलब है कि यह पहली बार नहीं है जब उत्तराखंड सीएम ने किसी तथ्य को लेकर गलतबयानी की हो। इससे पहले देश की गुलामी को लेकर उन्होंने कहा था कि अन्य देशों के तुलना में भारत कोरोना संकट से निपटने के मामले में बेहतर काम कर रहा है। वहीं अमेरिका, जिसने हमें 200 साल तक गुलाम बनाए रखा और दुनिया पर राज किया, वर्तमान समय में संघर्ष कर रहा है।
तीरथ सिंह रावत का जींस पर दिया बयान बेहद चर्चा में रहा था। इसमें उन्होंने कहा था कि महिलाएं फटी जींस पहनती हैं, जिससे कहीं न कहीं संस्कृति ख़तरे में पड़ जाती है। इस दौरान उन्होंने अपना एक हवाई सफर का अनुभव भी साझा किया था। उनके इस बयान पर विवाद उठने के बाद उत्तराखंड सीएम ने माफी भी मांगी थी।
बता दें कि देश में चार जगहों पर हर 12 साल में कुंभ का आयोजन होता है। यह जगहें हैं- उत्तराखंड का हरिद्वार, उत्तर प्रदेश का प्रयागराज, मध्य प्रदेश का उज्जैन और महाराष्ट्र का नासिक। इन्हीं चार जिलों में हर 6 साल के अंतराल पर अर्द्धकुंभ का भी आयोजन किया जाता है।

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज़ लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें

हमसे संपर्क करने/विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें - +91 70170 85440

Leave a Reply

Your email address will not be published.