शिक्षा मंत्री का विरोध कर रहे ग्राम प्रधानों को किया गिरफ्तार, समर्थन में उतरे पूर्व मंत्री दुर्गापाल

Ad
खबर शेयर करें

समाचार सच, लालकुआं/हल्दूचौड़ (रिम्पी बिष्ट)। 12 सूत्रीय मांगों को लेकर शुक्रवार को प्रदेश के शिक्षा मंत्री अरविंद पाण्डे का विरोध कर रहे ग्राम प्रधानों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। आपको बता दें कि शिक्षा मंत्री को यहां हल्दूचौड़ राजकीय इंटर कालेज में आयोजित एक समारोह में सम्मलित होने पहुंचे थे।

इस मौके पर ग्राम प्रधान संगठन के बैनर तले विरोध प्रदर्शन कर रहे प्रधानों ने राज्य सरकार पर उनकी मांगों की अनदेखी का आरोप लगाया। उनका कहना था कि कई बार अपनी मांगों से मंत्री महोदय को अवगत करवा चुके हैं। लेकिन उनकी मांगों पर अभी तक समाधान नहीं हो पाया है। जिससे प्रधानों में गहरा आक्रोश व्याप्त है। इधर प्रधानों के हिरासत की सूचना मिलने पर पूर्व मंत्री हरीश चंद्र दुर्गापाल भी उनके समर्थन में लालकुआं कोतवारी पहुंच गये। इस दौरान श्री दुर्गापाल ने उनकी मांगों को न्यायोचित करार देते हुए भाजपा सरकार पर प्रधानों की मांगों की अनदेखी किए जाने का आरोप लगाया।

यह भी पढ़ें -   डंपर से बरामद की 2 किलो 710 ग्राम चरस, चालक व क्लीनर गिरफ्तार

इस अवसर पर पूर्व मंत्री हरीश चंद्र दुर्गापाल के साथ नगर पंचायत अध्यक्ष लालचंद सिंह, पूर्व चेयरमैन रामबाबू मिश्रा, ईएसआई के पूर्व डायरेक्टर जीवन कबडवाल, वरिष्ठ कांग्रेस नेता उमेश कबडवाल, कांग्रेस किसान प्रकोष्ठ के नेता हेमवती नंदन दुर्गापाल, मनमोहन बिष्ट भाष्कर भट्ट, रोहित बिष्ट आदि भी समर्थन में कोतवाली पहुंचे थे। इधर कैबिनेट मंत्री अरविंद पांडे के हल्दूचौड़ के कार्यक्रम के समापन के बाद आंदोलनकारी ग्राम प्रधान संगठन के लोगों को रिहा कर दिया गया था। हिरासत में लिए गए ग्राम प्रधानों में ब्लॉक अध्यक्ष रुक्मणी नेगी, रमेश जोशी, हरेंद्र असगोला आदि प्रधान शामिल थे।

Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *