yoga imunity

रोग प्रतिरोधक क्षमता किसे कहते हैं और इसे कैसे बढ़ाया जा सकता है?

खबर शेयर करें

समाचार सच, स्वास्थ्य डेस्क। इम्युनिटी को हिंदी में रोग प्रतिरोधक क्षमता कहा जाता है। यह शरीर को जीवाणु और वायरल संक्रमण से बचाने में मदद करती है। इम्युनिटी में ऐसी शक्ति होती है जो शरीर की कोशिकाये ऊतक व अंगो की सुरक्षा करते है तथा रोगो को शरीर से बहार निकालने में सहायता करते है। इम्युनिटी को प्राकृतिक सिस्टम भी कहा जाता है। शरीर में इम्युनिटी को बढ़ना बहुत जरुरी होता है। यदि इम्युनिटी कमजोर हो जाती है तो यह रोगो से लड़ने में असमर्थ हो जाते है।
इम्युनिटी बढ़ाने के अपनी जीवनशैली में परिवर्तन करना बहुत आवश्यक होता है।
रोजाना व्यायाम – शरीर में इम्युनिटी सिस्टम को बढ़ाने के लिए रोजाना व्यायाम करना चाहिए। रोजाना व्यायाम करने से शरीर के सभी अंगो का व्यायाम होता है और शरीर के तंत्र सही तरीके से कार्य करने लगते है। शरीर का स्वास्थ्य ठीक रहने लगता है और इम्युनिटी सिस्टम बढ़ता है।
नींद लेना – व्यक्ति को रोजाना 6 से 7 घंटा सोना बहुत जरुरी होता है। रोजाना जल्दी सोने व उठने की आदत डाल ले से शरीर को पूर्णरूप से आराम मिलेगा और शरीर में इम्युनिटी की बढ़ोतरी होगी।
साफ सफाई रखना – अपने आसपास के परिसर को हमेशा स्वच्छ रखना चाहिए ताकि कोई जीवाणु या संक्रमण आपको क्षति ना पंहुचा सके। इसके लिए जरुरी है खाना खाने से पहले अपने हाथो को अच्छे से साफ़ करे उसके बाद ही भोजन का सेवन करे। यह करने से संक्रमण शरीर में प्रवेश नहीं कर पायेंगे और शरीर की इम्युनिटी बानी रहेगी।
ग्रीन टी का सेवन करना – आपको कॉफी की जगह ग्रीन टी का सेवन करना चाहिए क्योकि ग्रीन टी में एंटी ऑक्सीडेंट की मात्रा प्रचुर होते है जो शरीर के इम्युनिटी को मजबूत बनाने और बढ़ाने में सहायक होते है।
विटामिन डी पोषक तत्व – विटामिन डी इम्युनिटी को शक्तिशाली बनाता है तथा डॉक्टर भी विटामिन डी वाले पोषक पदार्थ खाने की सलाह देते है क्योकि विटामिन डी कोल्ड फ्लू और संक्रमण से लड़ने में सहायता करता है। विटामिन वाले पदार्थ जैसे – समुद्री खाना, टूना, सैमन इत्यादि है।
विटामिन बी पोषक तत्व – विटामिन बी में प्रचुर मात्रा में जस्ता और एंटी ऑक्सीडेंट तत्व होता है। यह तत्व शरीर के इम्युनिटी को बढ़ाते है। विटामिन बी वाले पोषक तत्व जैसे – ब्रॉकली, लहसुन, अदरक, अनार इत्यादि है।
अधिक दवाइयों का सेवन ना करे – यदि व्यक्ति किसी प्रकार की दवाइयों का सेवन करते है तो यह उस बीमारी को ठीक कर देता है लेकिन इम्युनिटी सिस्टम में बाधा उत्पन्न करता है। एंटीबॉयोटिक दवाइया रोगो से मुक्ति दिलाती है किंतु इम्युनिटी शरीर की सुरक्षा करने में असमर्थ हो जाता है इसलिए जितना हो सके दवाइयों का सेवन करने से बचे।

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज़ लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें

हमसे संपर्क करने/विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें - +91 70170 85440

Leave a Reply

Your email address will not be published.