भाजपा विधायक के सवालों पर जब उलझे कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज

Ad
खबर शेयर करें

समाचार सच, देहरादून। विधानसभा के मानसून सत्र के प्रश्नकाल के दौरान भाजपा विधायक व विपक्ष के सवालों पर कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज उलझे गये। इस दौरान जवाब में महाराज ने दोहराया कि सूचन मुहैया करा दी जायेगी। सत्र के दौरान 416 टिहरी बांध विस्थापितों के मसले के समाधान समेत अन्य प्रश्नों पर कुछ विधायकों ने उनका आभार भी जताया।

प्रश्नकाल के दौरान भाजपा विधायक मुन्ना सिंह चौहान के सवालों से कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज सबसे ज्यादा जूझे। टिहरी झील से संबंधित मूल प्रश्न के अनुपूरक प्रश्न में चौहान ने जानना चाहा कि क्या टिहरी झील से खतरे वाले स्थानों का चिह्नीकरण किया गया है। इस पर महाराज ने कहा कि सूचना उपलब्ध करा दी जाएगी। सड़कों के लिए वन भूमि हस्तांतरण से संबंधित सवाल के अनुपूरक पर विधायक चौहान ने अनुपूरक प्रश्न दागा कि सड़कों के ऐसे कितने प्रस्ताव हैं, जो क्षतिपूरक वनीकरण के लिए भूमि उपलब्ध न होने के कारण लटके हैं। इसकी जानकारी भी सदन को होनी चाहिए। इसके जवाब में महाराज ने दोहराया कि सूचना मुहैया करा दी जाएगी।

यह भी पढ़ें -   सीएम धामी ने पूर्व पार्षद के इलाज को दी आर्थिक सहायता चैक

नेता प्रतिपक्ष प्रीतम सिंह ने जब एक प्रश्न के अनुपूरक में यह जानना चाहा कि रुड़की में धनौरी नहर कब निष्प्रयोज्य घोषित की गई तो इसके जवाब में भी सिंचाई मंत्री महाराज ने यही दोहराया कि आपको सूचना दे देंगे। विधायक धन सिंह नेगी ने तारांकित प्रश्न के जरिये जानना चाहा कि टिहरी बांध विस्थापितों को जमीन उपलब्ध न होने पर क्या सरकार नगर प्रतिकर देने पर विचार कर रही है। प्रतिकर के लिए कितनी धनराशि का प्रविधान किया गया है। जवाब में सिंचाई मंत्री महाराज ने बताया कि 22 जनवरी को केंद्रीय ऊर्जा राज्यमंत्री की अध्यक्षता में हुई बैठक में इस मसले के समाधान को समिति गठित की गई थी। समिति की बैठक में ग्राम रौलाकोट को छोड़कर पात्र प्रभावित परिवारों के लिए भूमि के बदले नकद राशि 74.40 लाख की गणना की है। समपार्श्विक क्षति नीति के तहत प्रभावित परिवारों को भूमि के बदले दो एकड़ भूमि देहरादून व हरिद्वार जिले में देने का प्रविधान है। भूमि स्वीकार न होने की स्थिति में नकद राशि दी जाएगी।

यह भी पढ़ें -   मुख्य सचिव दिए डग्गामारी को रोकने के लिए विशेष प्रयास किए जाने के निर्देश

महाराज ने कहा कि प्रतिकर की राशि जल्द ही उपलब्ध होगी। इस पर विधायक नेगी ने मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी और कैबिनेट मंत्री महाराज के प्रति आभार जताया। टिहरी जिले के जौनपुर विकासखंड के अंतर्गत अलगाड और भद्रीगाड नदियों से बाढ़ सुरक्षा से संबंधित प्रश्न का जवाब मिलने पर विधायक खजानदास भी संतुष्ट नजर आए। उन्होंने कोई अनुपूरक प्रश्न भी नहीं किया।

Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *