मंत्रीमंडल की पहली बैठक के बाद कैबिनेट मत्री सौरभ बहुगुणा बोले- समान नागरिक संहिता लागू करने का संकल्प पूरा करेगी सरकार

खबर शेयर करें

समाचार सच, देहरादून। उत्तराखंड राज्य के कैबिनेट मंत्री सौरभ बहुगुणा ने जानकारी देते हुये बताया की उत्तराखंड में आज नई भाजपा सरकार का गठन होने के बाद मंत्रीमंडल की पहली बैठक हुई, बैठक में तय किया गया कि 12 फरवरी 2022 को समान नागरिक संहिता लागू करने का जो संकल्प जनता के सामने किया गया था, उस संकल्प को सरकार हर हालत में शीघ्र पूरा करेगी, इसके लिए जल्द ही एक उच्च स्तरीय समिति का गठन किया जाएगा।

उन्होंने यह भी बताया की आज उत्तराखंड की नवनिर्वाचित सरकार की पहली कैबिनेट बैठक के मौके पर पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक तथा प्रदेश महामंत्री संगठन अजेय कुमार ने मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी को सरकार का दृष्टि पत्र सौंपा। ये वही दृष्टि पत्र है, जिसके बल पर उत्तराखंड में लगातार दूसरी बार कमल खिला है। इस दृष्टि पत्र में अंकित विकास की एक एक धारा को धरातल पर उतारा जाएगा। आपसे किया हर एक संकल्प पूरा करने के लिए आपकी सरकार तैयार है। इस मौके पर मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार जनता की उम्मीदों को संजो कर आगे बढ़ने के लिए कृत संकल्पित है। इससे पहले कैबिनेट मंत्री सौरभ बहुगुणा ने अपने आदर्श और मार्गदर्शक स्व. हेमवती नंदन बहुगुणा की प्रतिमा पर माल्यार्पण भी किया। उन्होंने देहरादून स्थित शहीद स्मारक पर पहुंचकर उत्तराखंड राज्य के आंदोलनकारी वीर सपूतों को नमन किया। गौरतलब हैं की कैबिनेट मंत्री सौरभ बहुगुणा सितारगंज से दूसरी बार विधायक बने हैं। सौरभ पूर्व सीएम विजय बहुगुणा के बेटे हैं। एचएन बहुगुणा परिवार की तीसरी पीढ़ी है।

यह भी पढ़ें -   चारधाम रजिस्ट्रेशन पोर्टल को किया गया डिजाइन

इस अवसर पर सौरभ बहुगुणा ने कहा की केंद्रीय एवं प्रदेश नेतृत्व का हार्दिक आभार एवं धन्यवाद साथ ही सितारगंज की समस्त देवतुल्य जनता का हृदय की गहराइयों से आभार। आपके आशीर्वाद और आपके साथ की बदौलत आज मुझे उत्तराखंड कैबिनेट में मंत्री बनने का मौका मिलने जा रहा है। मैं वादा करता हूं, इस नए सफर में आपका साथ नहीं छोडूंगा, आप मेरी हिम्मत हैं और मैं सदैव आपका सेवक रहूंगा।

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज़ लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें

हमसे संपर्क करने/विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें - +91 70170 85440

Leave a Reply

Your email address will not be published.