सल्ट विस के खुमाड़ में बहुद्देशीय शिविर में दर्ज हुई 230 शिकायतें, कई समस्याओं हुआ मौके पर निस्तारण

Ad
Ad
खबर शेयर करें

समाचार सच, अल्मोड़ा। सरकार की मंशा के अनुरूप दूरस्थ क्षेत्रों में रह रहे लोगों की समस्याओं वह उनकी मूलभूत आवश्यकताओं की पूर्ति हेतु सल्ट विधानसभा के राजकीय इंटर कॉलेज खुमाड़ में बहुउद्देशीय शिविर आयोजित किया गया। क्षेत्रीय विधायक महेश जीना की अध्यक्षता में हुए शिविर में कुल 230 शिकायतें/समस्याएं दर्ज की गई, जिसमें अधिकांश शिकायतें विद्युत, पेयजल, सड़क, पेंशन, स्वास्थ्य, शिक्षा आदि विभागों से संबंधित थी।

इस अवसर पर जिलाधिकारी वंदना सिंह ने विभागीय अधिकारियों की उपस्थिति में अधिकांश शिकायतों का मौके पर ही निस्तारण किया। शिविर में सबसे ज्यादा लोगों द्वारा विद्युत विभाग से संबंधित शिकायतें रही जिसमें बिल ज्यादा आने क्षतिग्रस्त पोल व विद्युत तारों के संबंध में रही। जिलाधिकारी ने अधिकारियों को कड़े निर्देश दिए कि विकासखण्ड सल्ट की सभी न्याय पंचायतों में शिविर लगाए जिसमें लोगों की बिजली के सम्बन्ध में शिकायतों का निस्तारण करें। इसका व्यापक प्रचार-प्रसार व सूचना जनप्रतिनिधियों को देने के निर्देश दिए। शिविर में स्वास्थ्य विभाग द्वारा 107 दिव्यांग प्रमाण-पत्र बनाये गये, 45 लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण किया गया। समाज कल्याण विभाग द्वारा 23 सहायक उपकरण वितरित किये गये, 41 वृद्वावस्था प्रमाण-पत्र, 10 विधवा प्रमाण-पत्र, 12 दिव्यांग प्रमाण-पत्र बनाये गये। वहीं 01 शादी अनुदान, 01 मुख्यमंत्री वात्सलय योजना, 01 मुख्यमंत्री आवास योजना के आवेदन पत्र प्राप्त हुए। राजस्व विभाग द्वारा 01 जाति, 01 स्थायी, 01 पर्वतीय, 01 आय एवं 08 लोगांे का आर्थिक रूप से कमजोर प्रमाण-पत्र बनाये गये। पंचायती राज विभाग द्वारा 375 आवेदन पत्र प्राप्त हुए जिनमें परिवार रजिस्ट्रर नकल, जन्म-मृत्यु प्रमाण-पत्र, राशन कार्ड संशोधन, राशन कार्ड में नाम दर्ज किए गये।

यह भी पढ़ें -   21 सालों की विफलताओं पर आप ने दिया सांकेतिक धरना, भाजपा-कांग्रेस पर भी बोला हमला

शिविर में शिक्षा विभाग के 08 आवेदन प्राप्त हुए, आयुर्वेदिक एवं यूनानी विभाग द्वारा 344 लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण व दवाई वितरित की गयी होम्योपैथी विभाग द्वारा 90 लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण व दवाई वितरण की गयी। सहकारिता विभाग द्वारा 13 लोगों को चौक वितरित किये गये, पशुपालन विभाग द्वारा 35 लोगों को पशुओं हेतु दवाई वितरित की गयी। ग्राम विकास विभाग द्वारा 45 लाभर्थियों को योजनाओं से लाभान्वित किया गया। सेवायोजन विभाग के 12 आवेदन प्राप्त प्राप्त हुए। उद्योग विभाग द्वारा 02, उद्यान विभाग द्वारा 05, कृषि विभाग द्वारा 06 एवं बाल विकास द्वारा 08 लाभार्थियों को विभाग से सम्बन्धित योजनाओं से लाभान्वित किया गया। इस दौरान शिविर में लोगों द्वारा विभिन्न मोटर मार्गों में गड्ढे होने, स्वजल के अंतर्गत शौचालय निर्माण के बाद धनराशि प्राप्त ना होने, विद्यालयों के जीर्ण-शीर्ण होने, राशन कार्ड में नाम रखने व ऑनलाइन ना होने, नंदा गौरा योजना का लाभ न मिलने, आधार कार्ड नहीं बनने, पंपिंग योजनाओं के सुचारू ना चलने सहित अन्य शिकायतें प्राप्त हुई। जिस पर जिलाधिकारी ने सम्बन्धित अधिकारियों को शिकायतों पर तत्काल कार्रवाई करने के निर्देश दिए। उन्होंने आधार कार्ड के लिए एक विशेष कैम्प लगाने व एक माह के भीतर तहसील में आधार सेन्टर खोलने के निर्देश सम्बन्धित अधिकारियों को दिये।

यह भी पढ़ें -   राज्य की दुर्दशा का मुख्य कारण भाजपा-कांग्रेस: त्रिवेंद्र सिंह पंवार

जिलाधिकारी ने अधिकारियों को तय समय पर शिकायतों का निस्तारण करने के निर्देश दिए। उन्होंने लोगों की शिकायतों पर ब्लॉक कार्डिनेटर स्वजल को ब्लॉक में जिन-जिन लोगों को शौचालय निर्माण की धनराशि दी गई है उनकी सूची ग्राम पंचायत को अक्टूबर उपलब्ध कराएं ताकि पात्र लोगों का सत्यापन हो सके। इस दौरान क्षेत्रीय विधायक महेश जीना ने शिविर में क्षेत्र की कई समस्याएं रखी और अधिकारियों को तय समय पर इनका निस्तारण करने की अपेक्षा की। उन्होंने कहा कि दूरस्थ क्षेत्र में बहुउद्देशीय शिविर का लाभ जनता को मिले इसी उद्देश्य से यह शिविर आज लगाया गया है। उन्होंने कहा कि इसमें कई लोगों ने अपनी शिकायतें दर्ज की है, अधिकारी शिकायतों को गंभीरता से लेकर उनका निस्तारण समय से कर लें और शिकायतकर्ता को भी सूचित करें। इस दौरान मुख्य विकास अधिकारी नवनीत पांडे, ब्लाक प्रमुख विक्रम रावत उप जिलाधिकारी शिप्रा पांडे के अलावा विभिन्न विभागीय अधिकारी क्षेत्रीय जनता उपस्थित रहे।

Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *