15 लाख रुपये की ठगी में शामिल आरोपी ओडिशा से गिरफ्तार

खबर शेयर करें

समाचार सच, देहरादून/हरिद्वार। हरिद्वार निवासी व्यक्ति को ऑनलाइन ट्रेडिंग का झांसा देकर 15 लाख रुपये की ठगी में शामिल एक आरोपी साइबर क्राइम पुलिस स्टेशन पुलिस ने ओडिशा से गिरफ्तार किया है। गैंग के दो आरोपी पूर्व में गिरफ्तार किए जा चुके हैं। इस गैंग का नाम क्रिप्टो करेंसी के जरिए काली कमाई विदेश भेजने में भी आया है। इसे लेकर मनी लाड्रिंग की जांच हो सकती है।

एसएसपी एसटीएफ अजय सिंह ने बताया कि अकिंत कुमार निवासी सुभाषनगर ज्वालापुर हरिद्वार ने साइबर ठगी को लेकर बीते साल साइबर क्राइम पुलिस स्टेशन में केस दर्ज कराया। आरोप था कि फर्जी वेबसाइट बनाकर साइबर ठगों ने उन्हें ट्रेडिंग में मोटी कमाई का झांसा दिया। इसके बाद उनसे 15 लाख रुपये अपने दिए बैंक खातों में जमा करवा लिए। केस की जांच साइबर थाने के निरीक्षक त्रिभुवन रौतेला ने की। दो आरोपियों को पुलिस पहले ही गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है। जांच में ओडिशा के एक आरोपी का नाम सामने आया। इसके बाद जाकी अहमद सिद्दिकी (45) निवासी ब्लाक ए-135 सेक्टर-15 थाना व पोस्ट सेक्टर-15 राऊरकेला स्टील टाउनशीप एरिया जनपद सुंदरगढ़, ओडिशा को इसके पते से गिरफ्तार किया गया। आरोपी से घटना में प्रयुक्त एक मोबाइल और सिम कार्ड साइबर पुलिस टीम ने बरामद किया है।

यह भी पढ़ें -   उत्तराखंड के चारधाम में मनाया अंतरराष्ट्रीय योग दिवस, तीर्थयात्रियों ने किया योगाभ्यास, देखें छायाकार द्वारा ली गयी फोटो की झलकियां…

अभियुक्त गैंग फर्जी कम्पनियां बनाकर आमजनता को आनलाइन ट्रेडिंग में मोटी कमाई का झांसा देकर चूना लगाता है। इस गैंग के गिरफ्तार आरोपियों ने देश के अलग-अलग कोनों में दर्जनों फर्जी कम्पनियां बनाई गईं। आरोपी गैंग फिल्मों की स्क्रीनिंग के नाम पर करोड़ों रुपये ठगकर विदेश भेज चुका है। जिन साइटों के जरिए विदेश में रकम भिजवाई गई वह हांगकांग और सिगांपुर मे बनवाई गईं।

सबसे पहले ख़बरें पाने के लिए -

👉 हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ें

👉 फेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज़ लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें

हमसे संपर्क करने/विज्ञापन देने हेतु संपर्क करें - +91 70170 85440

Leave a Reply

Your email address will not be published.